बैन होने के बाद भी खूब चले पटाखे, जयपुर में हवाई आतिशबाजी से होटल में लगी आग

दिवाली से पहले प्रदेशभर में आतिशबाजी पर बैन लगाने के बाद भी राजधानी समेत प्रदेश के कई जिलों में आतिशबाजी हुई।

By: santosh

Updated: 15 Nov 2020, 10:12 AM IST

जयपुर। दिवाली से पहले प्रदेशभर में आतिशबाजी पर बैन लगाने के बाद भी राजधानी समेत प्रदेश के कई जिलों में आतिशबाजी हुई। आतिशबाजी के चलते जयपुर समेत पाली, बीकानेर और अन्य जिलों में भी आग लगने की घटनाएं हुईं।

राजधानी जयपुर में कमिश्नरेट की पूरी टीम और लाइन का जाब्ता लगा होने के बाद भी आतिशबाजी पर पूरी तरह से बैन नहीं लग सका। इसी का खामियाजा यह रहा कि हवाई आतिशबाजी से आग लगने के कारण एक होटल में आग लग गई और उसे काफी मशक्कत के बाद काबू किया गया।

दमकल विभाग के अफसरों ने बताया कि रात करीब ग्यारह बजे यह हादसा हुआ। वैशाली नगर स्थित बहु मंजिला होटल सरोवर में रुफ टॉप रेस्टोरेंट में यह आग लग गई। आग हवाई आतिशबाजी की चिंगारी से लगी थी। आग लगने के कारण वहां रखा फर्नीचर, कपड़ा और अन्य सामान जलकर नष्ट हो गया।

हवा की गति तेज होने के कारण आग तेजी से फैलने लगी और उसके बाद पूरी मंजिल पर फैल गई। गनीमत रही कि रेस्टोरेंट में उस समय कोई मौजूद नहीं था। आग लगने के कुछ देर बाद पुलिस और दमकल पहुंची और आग पर काबू पाया।

जयपुर के अलावा उधर पाली शहर के राजेन्द्र नगर में स्थित एक टैंट हाउस में भी आतिशबाजी की चिंगारी से आग लग गई। आग लगने से गोदाम में रखा लगभग पूरा सामान जलकर नष्ट हो गया। तीन दमकलों ने घंटों की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। वहीं बीकानेर शहर में भी कपड़े की एक दुकान में आग लगने से सामान जलकर नष्ट हो गया।

पटाखों पर पूरी तरह से बैन लगने के बाद भी चोरी छुपे ब्लेक में पटाखों की खूब बिक्री हुई। दिवाली पर जयपुर शहर में कोई बड़ी कार्रवाई नहीं की गई। लोगों ने ब्लेक होने के बाद भी उंचे दामों पर आतिशबाजी खरीदी और चोरी छुपे चलाई। शहर में और आसपास के क्षेत्र में पुलिस पैदल और बाइक गश्त पर रही लेकिन पूरी तरह से आतिशबाजी नहीं रुक सकी। शहर के बाहरी क्षेत्रों में देर रात तक आतिशबाजी का दौर कई जगहों पर जारी रहा।

राजस्थान में कोरोना के बढते मामलों को देखते हुए सरकार ने पूरे प्रदेश में आतिशबाजी और पटाखा बिक्री पर रोक लगा रखी है। इस बैन के तहत सरकार ने 31 दिसंबर तक पटाखा बेचने पर 10 हजार रुपए और आतिशबाजी करने पर 2 का जुर्माना लगाने का भी फैसला किया है। यह कार्रवाई राजस्थान महामारी अधिनियम 2020 के तहत करने का प्रावधान किया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned