जयपुर : इरादों से टस-से-मस नहीं हो रहे सांसद Kirodi Lal Meena, जानें आज क्या हो सकता है?

मूक-बधिर पुजारी शंभू मौत प्रकरण को लेकर आंदोलन जारी, सांसद डॉ किरोड़ी लाल मीणा का धरना-प्रदर्शन आज 7 वें दिन भी जारी, सरकार से वार्ता के विफल होने के बाद सिविल लाइंस फाटक पर डाला ‘पड़ाव’, सड़क किनारे ही गुजारी रात, साथ में रहे भाजपा नेता और समर्थक, सरकार से आज फिर दूसरे दौर की वार्ता होने की संभावना, मंदिर माफ़ी की ज़मीन पर भूमाफियाओं को हटाने की है मांग, ऐसी घटनाओं की पुनरावृति ना हो, इसके लिए सशक्त कानून बनाने की भी मांग

 

By: nakul

Updated: 09 Apr 2021, 12:46 PM IST

जयपुर।

दौसा के मूक-बधिर पुजारी शंभू शर्मा की मौत प्रकरण पर सियासत गरमाई हुई है। मृतक परिवार को न्याय दिलाने की मांग पर राज्यसभा सांसद डॉ किरोड़ी लाल मीणा का आंदोलन आज 7वें दिन भी जारी है। फिलहाल डॉ मीणा ने मृतक पुजारी के शव, उसके परिजनों, भाजपा नेता-कार्यकर्ताओं और अपने समर्थकों के साथ राजधानी जयपुर के सिविल लाइन्स फाटक पर पड़ाव डाल दिया है।

गौरतलब है कि पुजारी की मौत प्रकरण से जुड़े कुछ मांगों पर अब भी गतिरोध बरकरार है। शेष रही मांगों को लेकर भाजपा प्रतिनिधिमंडल की गुरुवार को सरकार के साथ पहले दौर की वार्ता हुई थी जो बेनतीजा रही। इसके बाद सांसद के नेतृत्व में भाजपा कार्यकर्ताओं ने पूरी रात धरनास्थल पर ही गुजारी।

इन मांगों पर अब भी गतिरोध बरकरार
आंदोलन शुरू हुए आज सप्ताह भर बीत रहा है। अब तक कई दौर की वार्ताएं चली हैं जिसके बाद कुछ मांगों पर सहमति बनी, पर कुछ पर अब भी गतिरोध बरकरार है। फिलहाल जिन मांगों पर गतिरोध बरकरार है उनमें मृतक पुजारी की मंदिर माफ़ी की ज़मीन पर जबरन हुई रजिस्ट्री को रद्द करवाने, भूमि पर बने निर्माण हटाकर भूमाफियाओं को बेदखल करने और मंदिर माफ़ी की ज़मीनों पर भूमाफियाओं के अवैध कब्ज़े रोकने के लिए सशक्त कानून बनाए जाने की मांग शामिल है।

सरकार को घेरने की बनी रणनीति
सांसद डॉ किरोड़ी मीणा के अकेले दम पर शुरू हुए आंदोलन में अब पूरी भाजपा पार्टी कूद पड़ी है। सरकार से मांगे मनवाने पर ही आंदोलन ख़त्म किये जाने का फैसला लिया गया है। भाजपा के वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में सरकार को घेरने की रणनीति बनाई गई है जिसके अनुसार अब पार्टी के नेता विधानसभावार अलग-अलग समय में धरना स्थल पर बैठेंगे।

तय हुए कार्यक्रम के अनुसार आज सुबह 11 से रात 8 बजे तक झोटवाड़ा, मालवीय नगर, चौमूं, जमवारामगढ़ विधानसभा के नेता-कार्यकर्ता धरना स्थल पर मौजूद रहेंगे, जबकि रात 8 से सुबह 9 बजे तक सिविल लाइन्स, आमेर, आदर्श नगर विधानसभा के कार्यकर्ता धरने में शामिल होंगे। इस तरह से 24 घंटे तक धरनास्थल पर मौजूद रहने की योजना बानाई गई है।

आज हो सकती है दूसरे दौर की वार्ता
शेष रही मांगों पर सरकार के साथ हुई पहले दौर की वार्ता बेनतीजा रही। अब सभी की निगाहें आज दूसरे दौर की वार्ता पर टिकी हुई हैं। हालांकि अभी तक सरकार के स्तर पर फिर से बातचीत के कोई संकेत नहीं मिले हैं। लेकिन माना जा रहा है कि राज्य सभा सांसद डॉ किरोड़ी लाल मीणा के नेतृत्व और वरिष्ठ भाजपा नेताओं की मौजूदगी में जारी धरना-प्रदर्शन को देखते हुए उसे जल्द से जल्द ख़त्म करवाने की कोशिशें रहेंगी। ऐसे में आज फिर से वार्ता होने की उम्मीद जताई जा रही है।

सड़क पर ही गुजारी रात
पुजारी को न्याय दिलाने की मांग पर शुरू हुए आंदोलन के छठे दिन भी राज्य सभा सांसद डॉ किरोड़ी लाल मीणा ने सड़क पर ही रात गुजारी। पिछले पांच दिनों से वे दौसा के महवा थाने के बाहर रात भर धरने पर डटे रहे थे। अब आंदोलन के छठे दिन उन्होंने जयपुर की सड़क किनारे रात गुजारी। इस बार उनके समर्थन में भाजपा के नेता और कार्यकर्ता भी साथ नज़र आये। सभी ने सांसद का साथ देते हुए रात भर धरना स्थल पर ही गुजारी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned