गुर्जर महापंचायत को लेकर प्रशासन अलर्ट, जिलेभर के कार्मिकों की छुट्टियों पर लगा बैन

भरतपुर के बयाना तहसील के ग्राम अड्डा में शनिवार को होने जा रही गुर्जर महापंचायत को देखते हुए स्थानीय प्रशासन अलर्ट मोड पर है।

By: santosh

Updated: 16 Oct 2020, 02:21 PM IST

जयपुर। भरतपुर के बयाना तहसील के ग्राम अड्डा में शनिवार को होने जा रही गुर्जर महापंचायत को देखते हुए स्थानीय प्रशासन अलर्ट मोड पर है।

महापंचायत के मद्देनजर जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने एक आदेश जारी करते हुए जिले के सभी सरकारी कर्मचारियों और अधिकारियों के अवकाश निरस्त कर दिए हैं। तुरंत प्रभाव से जारी आदेश आगामी आदेश आने तक प्रभावी रहेंगे। जिला कलक्टर के आदेश के मुताबिक जिले में कार्यरत सभी जिला स्तरीय अधिकारी, उपखंड स्तरीय अधिकारी, तहसीलदार, खंड विकास अधिकारियों को खासतौर से जिला मुख्यालय नहीं छोडऩे के लिए पाबन्द किया गया है।

इन सभी कार्मिकों को अवकाश कलक्टर की अनुमति के बिना नहीं दिया जा सकेगा। वहीं, बाकी कार्मिकों को बिना सक्षम अधिकारी की स्वीकृति के मुख्यालय नहीं छोडऩे के लिए पाबन्द किया गया है। गौरतलब है कि गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला ने अड्डा गांव में कल महापंचायत बुलाई है, जिसमें बड़ी संख्या में समाज के लोग और प्रतिनिधि इकट्ठा होंगे। ये महापंचायत इसलिए महत्वपूर्ण मानी जा रही है कि इसमें ही गुर्जरों के आगामी आन्दोलन को लेकर कोई घोषणा की जाएगी।

महापंचायत को लेकर कानून व्यबस्था का जायजा लेने गुरुवार शाम अड्डा गांव पहुंचे जिला कलक्टर नथमल डिडेल एवं पुलिस अधीक्षक डॉ. अमनदीप सिंह कपूर सहित अन्य अधिकारियों को गुर्जर समुदाय के लोगों की नाराजगी का सामना भी करना पड़ा। ग्रामीणों ने अधिकारियों के सामने सरकारों की वायदा खिलाफी के प्रति अपनी नाराजगी का इजहार करते कहा कि भाजपा एवं कांग्रेस की सरकारों ने गुर्जर समाज को दूध पीते बच्चों की तरह बहलाया, बार-बार समझौते और वादे किए, लेकिन उनका कोई भी वायदा आज तक पूरा नहीं हुआ।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned