दलाल के घर से मिली करोड़ों के हिसाब की पर्चियां, बंगला देखकर दंग रह गई ACB टीम, देखें तस्वीरें

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो को डीआइजी लक्ष्मण गौड़ के नाम से 5 लाख रुपए रिश्वत लेने वाले आरोपी प्रमोद के घर करोड़ों रुपए के हिसाब की पर्चियां मिली है।

By: santosh

Published: 25 Jun 2020, 04:28 PM IST

जयपुर। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो को डीआइजी लक्ष्मण गौड़ के नाम से 5 लाख रुपए रिश्वत लेने वाले आरोपी प्रमोद के घर करोड़ों रुपए के हिसाब की पर्चियां मिली है। इतना ही नहीं अलग-अलग लोगों के हस्ताक्षर किए हुए करीब 20 खाली चेक भी मिले हैं। वहीं हिसाब की पर्चियों में कोड वर्ड में लिखा है, जैसे नाका एक, नाका दो से मिल गया। 1 लाख अग्रिम लिए, 25 लाख लेने हैं, 1.50 करोड़ रुपए में सौदा हुआ।

house.jpg

ब्यूरो को घर की सर्च में बड़ी संख्या में भूखंडों की कच्ची पर्चियां भी मिली हैं। मालवीय नगर सर्च करने पहुंची एसीबी टीम बंगला देख दंग रह गई। बड़े-बड़े सोफे, होम थिएटर सहित कई आलीशान चीजें बंगले में थीं। पूरा भवन वातानुकूलिन था। सर्च में एक अन्य व्यक्ति के नाम से पूरी चेकबुक मिली है।

house3.jpg

यह चेक बुक आरोपी के पास क्यों रखी थी, इसकी भी जानकारी जुटाई जा रही है। आरोपी के पिता सेल टैक्स विभाग में बाबू से रिटायर्ड हैं। वे चार भाई हैं, जिनमें एक भाई के साथ आरोपी ने मालवीय नगर में श्रीनाथ ट्यूर एंड ट्रेवल्स एजेंसी खोल रखी है। एक भाई आरएसईबी में एईएन तथा एक साफ्टवेयर इंजीनियर है।

house4.jpg

एसीबी सूत्रों ने बताया कि फोन सर्विलांस के जरिए बंधी प्रकरण पहले भी उजागर किए, लेकिन यह अपनी तरह का पहला मामला है। पहली बार भरतपुर के उद्योग नगर एसएचओ चन्द्र प्रकाश ने डीआइजी के नाम पर उनका भाई बनकर रिश्वत मांगने वाले के खिलाफ शिकायत की है।

 

 

house5.jpg

एसीबी ने आशंका जताई कि आरोपी ने रेंज के अन्य थानेदारों को भी फोन किया। लेकिन आरोपी भी अभी इस संबंध में कबूल नहीं कर रहा है और ना ही कोई अन्य एसएचओ की शिकायत प्राप्त हुई है। एसीबी टीम ने बताया कि आरोपी प्रदीप के बंगले में बेसमेंट और पहली मंजिल के आधे हिस्से में रेस्टोरेंट है। जबकि पांच मंजिला भवन के अन्य हिस्से में वह रहता है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned