scriptmanager remained in jail for 4 days, after bail, called meeting | पेपर लीक में चार दिन जेल में रहा प्रबंधक, जमानत मिली तो बुलाई बैठक | Patrika News

पेपर लीक में चार दिन जेल में रहा प्रबंधक, जमानत मिली तो बुलाई बैठक

locationजयपुरPublished: Jan 15, 2024 08:53:31 pm

Submitted by:

Om Prakash Sharma

पेपर लीक में गत सप्ताह गिरफ्तार हुआ था राजीविका प्रबंधक। जमानत होने के बाद सोमवार को विभाग में ली बैठक।

 

पेपर लीक में चार दिन जेल में रहा प्रबंधक, जमानत मिली तो बुलाई बैठक
पेपर लीक में चार दिन जेल में रहा प्रबंधक, जमानत मिली तो बुलाई बैठक
जयपुर.सवाईमाधोपुर. राजीविका (राजस्थान ग्रामीण आजीविका विकास परिषद्) सवाईमाधोपुर के जिला परियोजना प्रबंधक अजीतसिंह सहरिया चार दिन जेल में रहने के बाद भी अपने पद पर कायम है। अजीत सिंह ने जेल से छूटने के दो दिन बाद सोमवार को कार्यालय में बैठक ली।
अजीत सिंह को एसओजी ने आरएएस भर्ती परीक्षा 2013 के पेपर लीक प्रकरण में गत मंगलवार को गिरफ्तार किया था। उस पर मुख्य आरोपी से पेपर लेने का आरोप है। एसओजी ने उसे दो दिन रिमांड पर लिया और फिर न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। चार दिन जेल में रहे अजीत सिंह को कोर्ट ने शुक्रवार को जमानत दी थी। सरकारी कर्मचारी व अधिकारियों को 24 घण्टे से अधिक पुलिस हिरासत में रहने पर निलम्बित करने का प्रावधान है। इसके बाद भी अजीत सिंह के मामले से विभाग बेखबर है। इधर, सीईओ जिला परिषद मुरलीधर प्रतिहार ने बताया कि उनको एसओजी ने गिरफ्तारी के सम्बंध में कोई लिखित में सूचना नहीं दी थी। वहीं जिला कलक्टर डॉ. खुशाल यादव का कहना है कि इस सम्बंध में उनको जानकारी नहीं है।
बैठक में जिला परियोजना प्रबन्धक सहरिया ने जिला प्रबन्धक आई.बी, आजीविका व नॉन-फार्म व ब्लॉक प्रभारी सवाई माधोपुर, खण्डार, मलारना डूंगर व चौथ का बरवाड़ा की सेच्यूरेशन, समूह गठन, ग्राम संगठन गठन, रिवॉल्विंग फण्ड व कम्युनिटी इंवेस्टमेन्ट फण्ड की प्रगति पर समीक्षा की। जिला परियोजना प्रबन्धक ने कम प्रगति वाले ब्लॉक प्रभारी को प्रगति में सुधार करने के निर्देश दिए। जिला परियोजना प्रबन्धक ज्योति टांक, जिला प्रबन्धक शमा बानो, जिला प्रबन्धक आजीविका रामप्रसाद मीना व अन्य उपस्थित रहे।

ट्रेंडिंग वीडियो