बेटी का सुहाग बचाने आगे आई मां, सास ने किडनी देकर दामाद को दिया नया जीवन

बेटी की बेहतरी के लिए माता-पिता बहुत कुछ करते हैं लेकिन शहर के मुरलीपुर में ऐसा मामला सामने आया है, जहां एक मां अपनी बेटी का सुहाग बचाने आगे आई। किडनी देकर सास ने दामाद को नया जीवन दिया। ट्रांसप्लांट का खर्च भी खुद वहन किया।

By: kamlesh

Published: 11 Apr 2021, 07:05 PM IST

हर्षित जैन/जयपुर। बेटी की बेहतरी के लिए माता-पिता बहुत कुछ करते हैं लेकिन शहर के मुरलीपुर में ऐसा मामला सामने आया है, जहां एक मां अपनी बेटी का सुहाग बचाने आगे आई। किडनी देकर सास ने दामाद को नया जीवन दिया। ट्रांसप्लांट का खर्च भी खुद वहन किया।

रामगढ़ तहसील के निमडि़या निवासी रमेशचंद गुर्जर (33) पिछले दो साल से किडनी की बीमारी से ग्रसित था। सालभर में वह लगभग 150 बार डायलिसिस करा चुका था। लेकिन अपने माता-पिता से उसे अपेक्षित मदद नहीं मिल पाई। आखिर मुरलीपुरा निवासी सास गुलाब देवी से रहा न गया।

उन्होंने न सिर्फ दामाद रमेश को किडनी देने की ठानी बल्कि ट्रांसप्लांट का खर्चा भी खुद वहन करने का प्रस्ताव दिया। फिर शुक्रवार देर रात महात्मा गांधी अस्पताल में डॉ. सूरज गोदारा और उनकी टीम ने किडनी ट्रांसप्लांट किया। दामाद और सास दोनों स्वस्थ हैं। रमेश के 4 साल की बेटी भी है।

गहलोत सरकार ने EWS वर्ग को आयु सीमा में छूट सहित लिए कई अहम फैसले

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned