scriptRajasthan Election: Revealing Identity Of Rape Victims Case In Diya Kumari Election Rally, Commission Issued Notice | दिया कुमारी की मौजूदगी में बलात्कार पीड़िता की पहचान उजागर करने का मामला गरमाया, महिला आयोग ने जारी किया नोटिस | Patrika News

दिया कुमारी की मौजूदगी में बलात्कार पीड़िता की पहचान उजागर करने का मामला गरमाया, महिला आयोग ने जारी किया नोटिस

locationजयपुरPublished: Nov 24, 2023 08:23:18 am

Submitted by:

Nupur Sharma

भाजपा प्रत्याशी दिया कुमारी की मौजूदगी में बलात्कार पीडि़ता की पहचान उजागर होने का मामला गरमा गया है। बलात्कार पीड़िता के पति को माइक थमाकर चुनावी फायदा लेने का प्रयास करने के मामले में गुरुवार को राज्य महिला आयोग ने प्रसंज्ञान लिया।

women_commission.jpg

Rajasthan Assembly Election 2023 : भाजपा प्रत्याशी दिया कुमारी की मौजूदगी में बलात्कार पीडि़ता की पहचान उजागर होने का मामला गरमा गया है। बलात्कार पीड़िता के पति को माइक थमाकर चुनावी फायदा लेने का प्रयास करने के मामले में गुरुवार को राज्य महिला आयोग ने प्रसंज्ञान लिया। आयोग ने नोटिस जारी कर इस मामले के साथ ही पीड़िता को तलाशने में पुलिसकर्मियों की ढिलाई को लेकर पुलिस उपायुक्त (जयपुर पश्चिम) से 10 दिन में स्पष्टीकरण मांगा है।


यह भी पढ़ें

राजस्थान विधानसभा चुनाव: 23 में से 11 सीटों पर त्रिकोणीय मुकाबला, सर्वाधिक 76 प्रत्याशी इस विधानसभा सीट में

महिला के गायब होने का यह मामला चार-पांच दिन पुराना बताया जा रहा है, जिसमें आरोपी की गिरफ्तारी भी हो चुकी है। इस प्रकरण को लेकर आरोप लग रहा था कि दिया कुमारी ने पुलिस पर निशाना साधने के बहाने चुनावी फायदा लेने का प्रयास किया और सभा में पीड़िता के पति काे माइक थमाकर घटना को सार्वजनिक कराया। पीड़िता की सास से भी माइक पर सवाल पूछे गए। विद्याधर नगर से भाजपा प्रत्याशी दिया कुमारी की मौजूदगी में पीड़िता के परिजन को माइक थमाकर घटना का बखान कराने का वीडियो बुधवार को राज्य महिला आयोग अध्यक्ष रेहाना रियाज चिश्ती के पास पहुंचा, जिस पर उन्होंने पहले घटना को लेकर पुलिस पर लग रहे आरोपों पर कार्रवाई के लिए प्रक्रिया शुरू की। इसके बाद वीडियो के कंटेंट का विधिक परीक्षण कराया और सांसद दिया कुमारी की मौजूदगी में बलात्कार पीड़िता की पहचान उजागर होने के मामले में भी प्रसंज्ञान लिया। आयोग की ओर से दोनों ही मामलों में पुलिस उपायुक्त (जयपुर पश्चिम) से कार्रवाई करने और स्पष्टीकरण देने को कहा गया है।

यह भी पढ़ें

राजस्थान चुनाव: कांग्रेस-भाजपा के साथ निर्दलीय प्रत्याशी भी रिझा रहे मतदाताओं को, युवाओं पर कर रहे ज्यादा फोकस

आयोग ने दिया सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला
आयोग ने महिला की पहचान उजागर होने के मामले में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला देकर कहा है कि बलात्कार के आरोपों से संबंधित मामले में महिला की पहचान उजागर होना गंभीर है। ऐसे मामलों में पीडि़ता की पहचान उजागर होना भारतीय दंड संहिता के प्रावधानों का भी उल्लंघन है।

ट्रेंडिंग वीडियो