Rajasthan Weather Update: दूसरे दिन भी प्रदेश में बारिश, अलवर में ओले, फसलों पर मार

प्रदेश में लगातार दूसरे दिन जिलों में बारिश और ओलावृष्टि का दौर चला। पश्विमी विक्षोभ सक्रिय होने के कारण पूर्वी राजस्थान के शहरों में बारिश हुई।

By: kamlesh

Published: 03 Jan 2021, 08:24 PM IST

जयपुर। प्रदेश में लगातार दूसरे दिन जिलों में बारिश और ओलावृष्टि का दौर चला। पश्विमी विक्षोभ सक्रिय होने के कारण पूर्वी राजस्थान के शहरों में बारिश हुई। कोटा, बारां, झालावाड़, अलवर, दौसा, धोलपुर, भरतपुर, जयपुर, करौली, हनुमानगढ़, सवाईमाधोपुर, श्रीगंगानगर, चुरू में हल्की से मध्यम बारिश हुई। अलवर जिले में चने के आकार के ओले गिरे। एक दिन पहले कोटा में देर रात ओले गिरे। इससे 60 फीसदी फसल खराब हो गई।

वहीं, जिले के थानागाजी उपखंड अंतर्गत अजबगढ़ के निकटवर्ती भगवान का ग्वाड़ा में बिजली गिरने से एक महिला की मौत हो गई। प्रदेश में दिनभर बादल छाए रहने, बारिश और ओलावृष्टि से दिन में ठिठुरन रही। प्रदेश में सर्वाधिक कम तापमान माउंट आबू में 0 डिग्री रहा। इसके अलावा दूसरे शहरों के तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। रविवार को प्रदेशभर में अलसुबह से 10 बजे तक घना कोहरा छाया रहा। प्रदेश में सर्वाधिक बारिश पिछले 24 घंटों में कोटा में 15.2 एमएम रेकॉर्ड की गई। इसके अलावा जयपुर में 0.2, सवाईमाधोपुर में 3.0, बूंदी में 5.0 मिलीमीटर दर्ज की गई। वहीं, इससे किसानों की नकदी फसल सरसों, प्याज, चना, गेहूं, फल - सब्जी जैसी जायद फसलें बर्बाद हो गईं। किसानों ने बताया कि ओलावृष्टि से उनकी फसलों में 80 प्रतिशत तक नुकसान हुआ है।

यलो जोन में हाड़ौती
मौसम विभाग जयपुर के निदेशक आरएस शर्मा ने बताया कि वायुमंडल के निचले स्तरों में एक प्रेरित चक्रवाती परिसंचरण तंत्र दक्षिण-पश्चिम राजस्थान और आसपास के क्षेत्र में स्थित है। इस कारण कोटा, बारां, झालावाड़, अलवर, दौसा, धोलपुर, भरतपुर, करौली, हनुमानगढ़, सवाईमाधोपुर, श्रीगंगानगर, चुरू में 5 जनवरी तक मेघ गर्जन के साथ बारिश की संभावना है। छह और सात जनवरी को अलवर, सीकर, झुंझुनूं, चूरू और हनुमानगढ़, श्रींगानगर में शीतलहर की चेतावनी दी गई है।

बिजली गिरने से महिला की मौत
अलवर जिले के थानागाजी उपखंड अंतर्गत अजबगढ़ के निकटवर्ती भगवान का ग्वाड़ा में रविवार सुबह करीब 8 बजे हुई बारिश के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से 55 वर्षीय महिला बच्ची देवी मीणा की मौत हो गई। इसी दौरान महिला की पुत्रवधू छोटा देवी (40) झुलस गई। आकाशीय बिजली उस समय गिरी, जब सास-बहू जंगल के खेतों से हरे चारे का भरोटा (गटठर) सिर पर रखकर अपने घर लौट रही थीं। दो महिलाओं पर आकाशीय बिजली गिरने की सूचना पाने के बाद थानागाजी पुलिस एवं उपखंड के प्रशासनिक अधिकारी घटनास्थल पहुंचे। महिला का पोस्टमार्टम कराने के बाद उसका शव परिजनों को सौंप दिया गया है।

IMD alert

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned