प्रदेशवासियों के लिए खुशखबरी, बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना में फिर देश भर में अव्वल राजस्थान

प्रदेशवासियों के लिए खुशखबरी, बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना में फिर देश भर में अव्वल राजस्थान

Nidhi Mishra | Updated: 13 Jul 2019, 12:01:27 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना ( beti bachao beti padhao scheme ) में राजस्थान फिर देश भर में अव्वल आया है। जोधपुर प्रदेश भर में अव्वल रहा है।

जयपुर। प्रदेशवासियों के लिए एक खुशखबर है। बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना ( beti bachao beti padhao scheme ) में राजस्थान फिर देश भर में अव्वल आया है। वर्ष 2014-15 से 2018-19 के बीच बेटियों के शिक्षा स्तर व लिंगानुपात में बेहतर सुधार करने पर प्रदेश को यह उपलब्धि हासिल हुई है। वहीं, अब तक उक्त योजना में अव्वल आने वाला झुंझूनूं जिला इस बार पिछड़ गया है। यहां लिंगानुपात में 18 अंकों की गिरावट आई है। वहीं, 10 अंकों का सुधार करते हुए जोधपुर प्रदेश भर में अव्वल रहा है। गौरतलब है कि 8 मार्च, 18 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ( PM Narendra Modi ) ने झुंझूनूं में सभा के दौरान बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना में इस शहर के प्रयासों को सराहा था। 

 


वहीं, केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास विभाग ( women and child welfare department ) की ओर से 7 अगस्त को दिल्ली के विज्ञान भवन में होने वाले समारोह में राजस्थान सहित बेहतर प्रदर्शन करने वाले पांच राज्यों और 10 जिलों को सम्मानित किया जाएगा। वहीं, राजस्थान को श्रेष्ठ राज्य श्रेणी में राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

 


विभाग की टीमों ने की थी मॉनिटरिंग
महिला अधिकारिता विभाग के निदेशक पीसी पवन ने बताया कि 2017-18 से 2018-19 की पीसीटीएस के आंकडों के आधार पर राजस्थान के लिंगानुपात के स्तर में भी सुधार देखने को मिला है। प्रदेश के अस्पतालों में जन्म लेने वाले बेटों-बेटियों की संख्या के आधार पर ये आंकड़े निकाले जाते हैं। साथ ही बेटियों को शिक्षित करने के लिए राज्य सरकार की ओर से विभिन्न योजनाएं व कार्यक्रम चलाए गए। साथ ही बेटा-बेटी में भेदभाव नहीं करने और बेटी के जन्म की खुशी मनाने सहित अन्य कार्यक्रमों के चलते इस बार यह खिताब जोधपुर को मिला। महिला एवं बाल विकास विभाग की टीमों ने मॉनिटरिंग कर यह रैंकिंग जारी की है।

 

Rajasthan Tops Beti Bachao Beti Padhao Scheme In India

इसलिए अव्वल आया जोधपुर

 

लिंगानुपात
राजस्थान 944 से बढ़कर 948
जोधपुर 950 से बढ़कर 960
झुंझुनूं 948 से घटकर 930

 

 

लिंगानुपात में आई गिरावट
उक्त योजना में झुंझुनूं और हनुमानगढ़ के अव्वल आने के कारण पूर्व में भी प्रदेश को राष्ट्रीय पुरस्कार मिल चुका है। विभागीय आंकड़ों के मुताबिक एक साल में ही झुंझुनूं के लिंगानुपात में गिरावट दर्ज की गई। लिंगानुपात गिरने वाले 12 जिलों में झुंझुनूं दूसरे स्थान पर है।

Rajasthan Tops Beti Bachao Beti Padhao Scheme In India

ये थे मानक
प्रदेश में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना के लिए किए जा रहे प्रयास
जन जागरूकता अभियान
बालिकाओं को स्कूल जाने के लिए प्रोत्साहित करना
बेटी जन्म की खुशी में उत्सव कार्यक्रम और अनुदान योजना
जन्म दर में सुधार सहित अन्य मानकों के अनुसार यह रैकिंग की गई

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned