एक माली जिसके पास एक अनार खाने के पैसे नहीं थे अचानक आ गए बीस बीघा में लगे अनार के बाग

एक माली जिसके पास एक अनार खाने के पैसे नहीं थे अचानक आ गए बीस बीघा में लगे अनार के बाग

JAYANT SHARMA | Publish: May, 18 2018 12:09:49 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

एक माली जिसके पास एक अनार खाने के पैसे नहीं थे अचानक आ गए बीस बीघा में लगे अनार के बाग

जयपुर
करोड़ों रुपयों के गेहूं घोटाले में एसीबी की गिरफ्त में आई आईएएस निर्मला मीणा 19 मई तक रिमांड पर है। रिमांड पर लेने के दौरान एसीबी अफसर मीणा से पूछताछ कर रहे हैं। पूछताछ में कई अहम खुलासे हुए हैं। इन खुलासों में एक रोचक मामला भी सामने आया है कि किस तरह से आईएएस मीणा ने अपने लालच के जाल में एक माली तक को फंसा दिया। एक माली के नाम से कई बीघा खेत खरीद डाले और उन पर अनार के बाग उगा दिए। एसीबी जब जांच करते हुए माली तक पहुंची और जब माली के हालात देखे तो एसीबी अफसर तक दंग रह गए।
माली ने कहा अनार खाने तक के रुपए नहीं, बाग तो सपने में भी नहीं आता साहब
एसीबी अफसरों ने बताया कि निर्मला मीणा ने बीस से भी ज्यादा बेनामी सम्पत्तियों को अटैच कर लिया है। निर्मला ने सिर्फ चार के बारे में ही जानकारी दी थी। बाकि कि ये सम्पत्तियां अवैध तरीके से और अन्य लोगों के नामों से खरीदी गई है। इनमें कुछ कृषि भूमि भी है। ये कृषि भूमि बाड़मेर और जोधपुर में खरीदी गई थी। एसीबी ने जांच की तो सामने आया कि दोनो ही जगहों पर निर्मला ने अपने घर काम करने वाले माली के नाम से खेती भूमि खरीदी थी। करीब तीस बीघा से ज्यादा इस भूमि में पच्चीस बीघा भूमि पर तो अनार के बाग भी उगा दिए गए। इन बागों में पांच से सात साल से अनार की खेती हो रही थी और लाखों रुपयों के अनार बेच भी दिए गए थे। जांच करते हुए जब एसीबी माली तक पहुंची और उससे पूछताछ की तो उसने कहा साहब अनार खाने तक तो पैसे नहीं, अनार के बाग कहां से उगाऊंगा।
पति की तलाश कर रही एसीबी
निर्मला मीणा के सरेंडर करने के बाद अब एसीबी अफसर उनके पति पवन मित्तल की तलाश कर रहे हैं। मीणा ने घोटाले कर जो सम्पत्ति बनाई है उसमें उनके पति का भी बड़ा हाथ है। उनके पति ने भी कई जगहों पर बड़ा निवेश किया है। एसीबी दोनो के खिलाफ ही आय से अधिक सम्पत्ति रखने का मामला दर्ज कर चुकी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned