पुलवामा हमले के बाद 'थार एक्सप्रेस' का ये सच आपको हैरान कर देगा

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

जयपुर। थार एक्सप्रेस के इस बार (शनिवार 16/03/2019) के फेरे में पाकिस्तान से 300 यात्री आए है, इसमें 154 पाकिस्तानी और 146 भारतीय नागरिक हैं। पिछले तीन फेरों में यह संख्या 550 से अधिक रही है। भारत से जाने वाले इस बार के फेरे में 250 भारतीय और 283 पाकिस्तानी गए है,जो कुल 533 है। पिछले तीन फेरों में भारत से जाने वाले कम संख्या में थे इस बार बढ़ गए है। मतलब ये कि इस हफ्ते थार एक्सप्रेस भारत से ओवरलोडेड गई है।


कड़ी सुरक्षा में थार
बता दें कि पुलवामा हमले और एयर स्ट्राइक के बाद थार एक्सप्रेस की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। बीएसएफ, खुफिया एजेंसिया और सीमा शुल्क की ओर से कड़ी जांच की जा रही है। इन दिनों भारत से लिंक एक्सप्रेस जोधपुर की भगत की कोठी से मुनाबाव तक पहुंच रही है और पाकिस्तान से थार एक्सप्रेस भारत आ रही है।


वहीं, थार एक्सप्रेस से नकली नोट ले जा रहे एक पाकिस्तानी नागरिक को मुनाबाव में जांच के दौरान सीमा शुल्क विभाग ने पकड़ लिया। इसके पास 2000 के 47 नोट थे। 94000 रुपए जब्त कर जांच प्रारंभ की गई है। थार एक्सप्रेस से रविवार को मुनाबाव से पाकिस्तान जा रहे पाकिस्तानी नागरिक राणसिंह की तलाशी के दौरान यह राशि पकड़ में आई है। राणसिंह पाकिस्तानी नागरिक है जो गुजरात के मोरवी में नोरी वीजा(नो ओब्जेक्शन टू रिटर्न इंडिया) पर स्थाईवास पर रहा है। नोट जब्त करने के बाद इसे अग्रिम कार्यवाही के लिए मुनाबाव में ही रोक लिया गया और थार एक्सप्रेस को रवाना किया गया। कस्टम विभाग के सह आयुक्त एम एल शेरा के नेतृत्व में यह कार्यवाही की गई है।

pulwama attack 2019
Nidhi Mishra Nidhi Mishra Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned