scriptTwo day conference organized in RIC | जांच में बीमारी ही नहीं ढूंढ रहे, इलाज भी कर रहे रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर | Patrika News

जांच में बीमारी ही नहीं ढूंढ रहे, इलाज भी कर रहे रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर

locationजयपुरPublished: Dec 11, 2023 02:34:07 pm

Submitted by:

Manish Chaturvedi

रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर अब ना केवल जांच में बीमारी को पकड़ रहे हैं, बल्कि उसका इलाज भी कर रहे हैं।

जांच में बीमारी ही नहीं ढूंढ रहे, इलाज भी कर रहे रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर
जांच में बीमारी ही नहीं ढूंढ रहे, इलाज भी कर रहे रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर

जयपुर। रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर अब ना केवल जांच में बीमारी को पकड़ रहे हैं, बल्कि उसका इलाज भी कर रहे हैं। यह प्रिवेंटिव एंड क्लिनिकल रेडियोलॉजी मेंं संभव हो पाया है। क्योंकि इसमें इंटरवेंशनल रेडियोलॉजी बतौर सुपरस्पेशलिटी ब्रांच बनकर उभरी है। उसके माध्यम से कई बीमारियों का बेहतरीन इलाज किया जाने लगा है। यह बात राजस्थान स्टेट चैप्टर ऑफ आईआरआईए की ओर से आरआईसी में आयोजित दो दिवसीय कॉन्फ्रेंस में अंतिम दिन रविवार को रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर्स ने सत्र में कही। ऑर्गेनाइजिंग चेयरमैन डॉ.जीवराज सिंह राठौड़ ने बताया कि कॉन्फ्रेंस में एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. राजीव बगरहट्टा मुख्य अतिथि रहे। ऑर्गेनाइजेशन चेयरमैन डॉ. मीनू बगरहट्टा, डॉ. ऑर्गेनाइजेशन सेके्रटरी डॉ नवनीत गुप्ता ने बताया कि अंतिम दिन मस्कुलोस्केलेटल, फीटल रेडियोलॉजी को लेकर वर्कशॉप हुई। साथ ही एब्डोमेन, ईयर, ब्रेस्ट व कार्डियक रेडियोलॉजी के एडवांस तकनीकी पर चर्चा हुई। वहीं, डॉ.रेणु शर्मा,डॉ.कार्तिकेय,और डॉ.विकास झंवर ने इलाज की नई तकनीक बतायी। कॉन्फ्रेंस में डॉ.प्रवीण सिंघल, डॉ अनु भंडारी, डॉ आर पी बंसल, डॉ परेश सुखानी, डॉ कुशल बाबू, डॉ तुषार प्रभा, डॉ नेहा अग्रवाल भी उपस्थित रहे।

ट्रेंडिंग वीडियो