देखें तस्वीरें: गुर्जर महापंचायत में विश्वेन्द्र सिंह के पुत्र अनिरुद्ध की एंट्री, निकाले जा रहे कई मायने

पूर्व मंत्री विश्वेन्द्र सिंह के पुत्र अनिरुद्ध भरतपुर चर्चा में, गुर्जर महापंचायत को समर्थन देने पहुंचे थे अनिरुद्ध, सभा स्थल पहुंचकर कर्नल बैंसला का किया अभिवादन, सामाजिक और सियासी हल्कों में निकाले जा रहे मायने, गहलोत सरकार विरोधी बयान देने में सक्रीय है पूर्व मंत्री पुत्र, पिता विश्वेन्द्र भी सरकार को दिखाते रहे हैं तल्ख़ तेवर

 

By: nakul

Published: 18 Oct 2020, 09:45 AM IST

जयपुर।

गुर्जर महापंचायत में पूर्व मंत्री विश्वेन्द्र सिंह के पुत्र अनिरुद्ध भरतपुर की मौजूदगी चर्चा का विषय रही। अनिरुद्ध ना सिर्फ महापंचायत को समर्थन करने आयोजन स्थल पर पहुंचे बल्कि मंच पर चढ़कर कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला का अभिवादन भी किया। ये नज़ारा देखकर हर कोई उनके वहां पहुँचने के मायने निकालता दिखाई दिया।

गौरतलब है कि गुर्जर समाज ने गहलोत सरकार के विरोध में महापंचायत बुलाई थी। इससे पहले अनिरुद्ध के पिता विश्वेन्द्र सिंह भी खुद की पार्टी की ‘सरकार’ को समय-समय पर अपने तेवर दिखाते रहे हैं। महापंचायत से पहले ही वे कर्नल बैंसला और गुर्जर समाज के समर्थन में कई प्रतिक्रियाएं दे चुके थे। उन्होंने भरतपुर में महापंचायत के आयोजन को बाकायदा सौभाग्य का विषय करार दिया था।

aniruddh bharatpur at addaa village

एक मायना ये भी
अनिरुद्ध का आयोजन स्थल पर पहुंचना हालांकि कर्नल बैंसला से मिलने का बताया जा रहा है, पर एक पारिवारिक व सामाजिक मायना और निकाला जा रहा है। कुछ जानकारों का मानना है कि विश्वेन्द्र सिंह की धर्मपत्नी व अनिरुद्ध की मां दिव्या सिंह गुर्जर समाज से हैं और भरतपुर के गुर्जर समाज में दिव्या सिंह की अच्छी पकड़ भी है। ये वजह भी अनिरुद्ध के गुर्जर महापन्हायत को समर्थन की मानी जा रही है।

aniruddh bharatpur

पहले जाट नेता जो संघर्ष में साथ आए
कर्नल किरोड़ी बैंसला के पुत्र विजय बैंसला ने कहा कि अनिरुद्ध पहले ऐसे जाट नेता है जो समाज के संघर्ष में साथ में खड़े हैं। जिस पर बाद में अनिरुद्ध ने कहा कि उनके पिता विश्वेन्द्र सिंह का यहां पर नहीं आने की वजह पूर्व के आंदोलन में उनकी मौजदूगी में हुए समझौते की पालना नहीं होना है। ऐसे में वह यहां आकर समाज को क्या कहते। यही वजह है कि उनकी जगह वे यहाँ पहुंचे हैं।

aniruddh bharatpur

सभा स्थल पर छा गए अनिरुद्ध
विश्वेन्द्र पुत्र अनिरुद्ध के महापंचायत स्थल पर पहुँचने के पहले ही कयास लगाए जा रहे थे। हालांकि जब वे वहां पहुँच गए तब इस कयास स्पष्ट हो गए। अनिरुद्ध के पहुँचते ही वहां मौजूद कई युवा उनकी तस्वीर-वीडियो लेने को आतुर दिखाई दिए। उनका माला पहनाकर अभिनन्दन भी किया गया। समाज ने भी उनकी मौजूदगी पर सभास्थल से ख़ुशी जताई।

aniruddh bharatpur

सरकार विरोधी बयान दे रहे अनिरुद्ध
गहलोत सरकार के मौजूदा कार्यकाल में ही कैबिनेट मंत्री राजे डीग-कुम्हेर विधायक विश्वेन्द्र सिंह के पुत्र अनिरुद्ध भरतपुर पिछले कुछ दिनों से लगातार सरकार विरोधी बयान दे रहे हैं। यहाँ तक कि उन्होंने सरकार पर उनकी पूरी टीम के फोन सर्विलांस में लेने तक के आरोप लगाए हैं। वहीं गुर्जर महापंचायत को खुलकर समर्थन देते हुए उन्होंने पुलिस-प्रशासन की कार्यशैली पर भी कई सवाल उठाये हैं।

aniruddh bharatpur

‘भरतपुर में महापंचायत सौभाग्य का विषय’
विश्वेन्द्र सिंह के पुत्र ने एक ट्वीट प्रतिक्रिया में गुर्जर महापंचायत को समर्थन देते हुए खुलकर पैरवी की थी। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘’कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला भरतपुर के अड्डा, बयाना में गुर्जर समाज की महापंचायत करेंगेl भरतपुर की पावन धरा पर आपका स्वागत है। महापंचायत में पधारे गुर्जर समाज की सेवा का मौका मिलना भरतपुर विकास समिति के लिए भी एक सौभाग्य का विषय होगा।‘’

‘ये कैसा लोकतंत्र?’
एक अन्य ट्वीट में अनिरुद्ध भरतपुर ने लिखा, ‘’यह कहाँ की डेमोक्रेसी है? कल कर्नल करोड़ी सिंह बैंसला जी महापंचायत कर रहे हैं और पुलिस द्वारा रास्ता रोका जा रहा है। क्या यही लोकतंत्र है?’’

‘कर्नल बैंसला का कायल हूँ’
अनिरुद्ध भरतपुर ने सरकार के खिलाफ आन्दोलन की राह पकड़ने वाले कर्नल बैंसला की जमकर तारीफ की है। ‘’मेरे हिन्दुस्तान लौटने के बाद ये पहली बार है जब कर्नल बैंसला भरतपुर जिले में महापंचायत कर रहे हैं। मुझे उनके काम और आचार-विचार का कायल हूँ। मैं उनका भरतपुर, मेरे घर की पवित्र भूमि में स्वागत करता हूं।‘’

Show More
nakul Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned