Jal Jeevan Mission घर—घर नल कनेक्शन के लिए बांधों से मिलेगा अतिरिक्त पानी

प्रदेश में जल जीवन मिशन (जेजेएम) Jal Jeevan Mission के तहत ग्रामीण पेयजल परियोजनाओं के लिए सतही जल स्रोत से अतिरिक्त पानी के लिए सहमति बनी है। यह सहमति वाटर रिजर्वेशन को लेकर सोमवार को हुई पीएचईडी (जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग) Water supply department एवं डब्ल्यूआरडी (जल संसाधन विभाग) Department of Water Resources के अधिकारियों की संयुक्त बैठक में बनी।

By: Girraj Sharma

Published: 27 Sep 2021, 07:54 PM IST

Jal Jeevan Mission घर—घर नल कनेक्शन के लिए बांधों से मिलेगा अतिरिक्त पानी, बनी सहमति
— वाटर रिजर्वेशन पर पीएचईडी व डब्ल्यूआरडी की संयुक्त बैठक

जयपुर। प्रदेश में जल जीवन मिशन (जेजेएम) Jal Jeevan Mission के तहत ग्रामीण पेयजल परियोजनाओं के लिए सतही जल स्रोत से अतिरिक्त पानी के लिए सहमति बनी है। यह सहमति वाटर रिजर्वेशन को लेकर सोमवार को हुई पीएचईडी (जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग) Water supply department एवं डब्ल्यूआरडी (जल संसाधन विभाग) Department of Water Resources के अधिकारियों की संयुक्त बैठक में बनी।

जलदाय विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव सुधांश पंत और डब्ल्यूआरडी के सचिव डॉ. पृथ्वीराज ने वृहद पेयजल परियोजनाओं (मेजर प्रोजेक्ट्स) में सतही जल स्रोत पर आधारित जेजेएम परियोजनाओं के लिए वाटर रिजर्वेशन के बारे में अधिकारियों से प्रोजेक्ट सर्किल व जिलावार आवश्यकताओं के बारे में विस्तृत चर्चा की। उन्होंने निर्देश दिए कि स्थानीय स्तर पीएचईडी व डब्ल्यूआरडी के अधिकारी आपस में समन्वय करते हुए जल आरक्षण की जरूरतों के बारे में प्रस्ताव तैयार कराए। इसमें पहले किन-किन जल स्रोतों में पेयजल के लिए कितना जल आरक्षित है और नई परियोजनाओं के लिए और कितनी आवश्यकता है, इसके बारे में तुलनात्मक स्थिति का विस्तृत विवरण हो।

अब तक इन पर बनी सहमति
बैठक में बताया गया कि अब तक उदयपुर जिले में सारडा एवं सलूम्बर तहसीलों के 84 गांवों के लिए सोम कमला अम्बा बांध, चितौड़गढ़ में बेगूं पंचायत समिति के 62 गांवों के लिए ओराई बांध, झालावाड़ में रीवा पेयजल परियोजना के लिए रीवा बांध तथा गुलेंडी पेयजल प्रोजेक्ट के लिए गुलेंडी बांध से अतिरिक्त पानी के लिए सहमति बनी है। झालावाड़ में कालीखार पेयजल परियोजना के लिए कालीखार बांध, खानपुर पेयजल प्रोजेक्ट के लिए भीमसागर बांध, पिड़ावा-रायपुर पेयजल प्रोजेक्ट के लिए चौली डैम, बूंदी में गरडा पेयजल आपूर्ति योजना के लिए गरडा बांध तथा इंद्रगढ़ वाटर सप्लाई प्रोजेक्ट के लिए चाकन डैम तथा जयसमंद बांध से पूर्व में चल रही जयसमंद झील आधारित चार पेयजल परियोजनाओं के लिए वाटर रिजर्वेशन के बारे में सहमति बन गई है।

Girraj Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned