राशन दुकानों पर गेहूं मिलना शुरू, दालों की अब तक खरीद ही नहीं हुई

केंद्र सरकार ने दिए निर्देश, खाद्य सुरक्षा में शामिल परिवारों को तीन महीने तक गेहूं के साथ दे दाल भी

By: pushpendra shekhawat

Published: 31 Mar 2020, 09:14 PM IST

जया गुप्ता / जयपुर। प्रदेश में राशन की दुकानों पर खाद्य सुरक्षा सूची में शामिल परिवारों को गेहूं मिलना शुरू हो चुका है। कई हिस्सों में गरीबों ने गेहूं ले भी लिए हैं, लेकिन केंद्र सरकार के निर्देश के बाद भी अब तक दालें राशन दुकानों तक नहीं पहुंची हैं। दरअसल, केंद्र सरकार ने कुछ दिन पूर्व ही राज्य सरकारों को दिशा-निर्देश जारी कर खाद्य सुरक्षा में शामिल परिवारों को तीन महीने तक अतिरिक्त गेहूं के साथ-साथ दालें भी उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए थे।

खाद्य विभाग को एक सप्ताह पूर्व ही इस संबंध में दिशा-निर्देश भी मिल गए मगर विभाग ने जिला कलक्टरों, परिवहन आयुक्त को पत्र लिखकर ही इतिश्री कर ली। अब स्थिति यह है कि 28 मार्च से ही अप्रेल माह की खाद्य सामग्री का आवंटन भी शुरू हो चुका है। कई जिलों में जरुरतमंद लोग राशन ले जा चुके हैं मगर दालों की अभी तक खरीद ही नहीं की गई है। खरीद नहीं होने से राशन की दुकानों तक दालें नहीं पहुंची और न ही गरीब की थाली तक।


हर महीने गेहूं के साथ मिलेगी एक किलो दाल
लॉकडाउन के दौरान प्रदेश में खाद्य सुरक्षा सूची में शामिल करीब 5 करोड़ लोगों को नि:शुल्क गेहूं के साथ-साथ दालें भी देने की घोषणा की थी। जिसके अनुसार गेहूं के साथ-साथ हर महीने एक किलो गाल भी नि:शुल्क उपलब्ध करवाई जाएगी। केंद्र सरकार से निर्देश मिलने के बाद खाद्य विभाग 26 मार्च को परिवहन आयुक्त को पत्र लिखकर अतिरिक्त वाहनों की व्यवस्था करने के निर्देश दिए थे। इसके बाद जिला कलक्टरों को दालों की खरीद करने के लिए 29 मार्च को पत्र लिखे गए। जबकि इससे एक दिन पूर्व 28 से ही नि:शुल्क गेहूं मिलना शुरू हो गया था।

फैक्ट फाइल
- खाद्य सुरक्षा सूची में शामिल कुल लोग - 4.99 करोड़
- बीपीएल राशन कार्ड - 23.86 लाख
- स्टेट बीपीएल राशन कार्ड - 6.04 लाख
- अन्तोदय राशन कार्ड - 6.61 लाख
- बीपीएल व अन्तोदय के कुल लाभार्थी - 1.72 करोड़
- एपीएल लाभार्थी - 3.27 करोड़

pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned