scriptWorkout along with swimming , people of all ages enjoy aqua | पूल में स्विमिंग के साथ कर रहे वर्कआउट, हर उम्र के लोगों को भा रहा एक़्वा | Patrika News

पूल में स्विमिंग के साथ कर रहे वर्कआउट, हर उम्र के लोगों को भा रहा एक़्वा

locationजयपुरPublished: Sep 09, 2023 03:21:00 pm

Submitted by:

Shaily Sharma

वर्कआउट सुनते ही हमारे मस्तिष्क में जिम का नाम आता है, लेकिन स्वीमिंग पूल में भी एक्वा वर्कआउट अब हर उम्र के लोगों की पसंद बन रहा है। यह वजन घटाने का एक मनोरंजक तरीका है।

पूल में स्वीमिंग के साथ वर्कआउट भी, हर उम्र के लोगों को भा रहा एक्वा
पूल में स्वीमिंग के साथ वर्कआउट भी, हर उम्र के लोगों को भा रहा एक्वा
. वर्कआउट सुनते ही हमारे मस्तिष्क में जिम का नाम आता है, लेकिन स्वीमिंग पूल में भी एक्वा वर्कआउट अब हर उम्र के लोगों की पसंद बन रहा है। यह वजन घटाने का एक मनोरंजक तरीका है। कामकाज और अन्य कारणों से जिम नहीं जा पाने वाले लोग एक्वा को अ धिक तरजीह दे रहे हैं। खासतौर पर यह हृदय रोगियों के लिए मददगार है। विशेषज्ञों के अनुसार इससे रक्त परिसंचरण में सुधार होता है।
एक्वा वर्कऑउट पानी के अंदर हाथों, पैरों और कंधों के मूवमेंट को शामिल करने में मदद करता है। इससे वजन भी कम होता है। साइंस डायरेक्ट की 2023 रिपोर्ट के अनुसार इससे जोड़ों के दर्द में भी आराम मिलता है।

पहले से ज्यादा एक्टिव

मालवीय नगर निवासी शीतल दीक्षित 6 महीने से एक्वा वर्कआउट कर रही है। गर्मियों के दिनों से उन्होंने यह वर्कआउट शुरू किया था। एक्सरसाइज के बाद उन्हें काफी एक्टिव महसूस होता है। वे बताती हैं कि उन्हें ऑर्थराइटिस की दिक्कत है, इसमें यह व्यायाम काफी मददगार साबित हो रहा है।
वजन कम करने में मददगार

तिलक नगर निवासी आयुष काफी साम्य से एक्वा वर्कआउट कर रहे हैं। उनका इस दौरान 8 से 9 किलो वजन कम हुआ है। इस वर्कआउट से उनका तनाव भी कम हो जाता है। शरीर का संतुलन भी पहले से बेहतर हुआ है।

टॉपिक एक्सपर्ट : सेहत में होता है सुधार, तनाव भी हो रहा कम

गुरप्रीत, एक्वा वर्कआउट ट्रेनर

इस तरह के वर्कआउट से उर्जा और ताजगी महसूस होती है। एंडोर्फिन हार्मोन रिलीज होता है, जो तनाव कम करता है। ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में भी मदद करता है। जल व्यायाम ग्लूकोज के स्तर को कम करता है, जिससे मधुमेह और हृदय रोग का खतरा कम हो जाता है। यह वर्कआउट का काफी मजेदार तरीका होता है। अच्छे संगीत के साथ कई प्रकार के व्यायाम करवाएं जाते हैं। हर उम्र के व्यक्ति यह वर्कआउट करना पसंद कर रहे हैं। इसे नियमित तौर पर करने से एनर्जी लेवल में भी बढ़ोतरी होती है। पानी में शरीर की ताकत अ धिक लगानी पड़ती है, जिससे मसल ट्रेनिंग बेहतर तरीके से होती है। जहां दूसरे वर्कऑउट में एक बार में 350 -400 कैलोरी बर्न होती है, वहीं इस वर्कआउट में दोगुनी 700-750 तक कैलोरी बर्न होती है।

ट्रेंडिंग वीडियो