मोक्ष कलश विसर्जन योजना का उठावें लाभ : मंत्री

- गरीब वर्ग केे लोगों को मिलेगी राहत

By: Deepak Vyas

Published: 28 May 2020, 07:14 PM IST

पोकरण (आंचलिक). राजस्थान सरकार के अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ एवं जन अभियोग निराकरण विभाग मंत्री शाले मोहम्मद ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत आम गरीब, जरुरतमंद व्यक्ति की मदद के लिए हर समय तैयार रहते है। इसी के अंतर्गत उनकी ओर से लॉकडाउन के दौरान मोक्ष कलश विसर्जन योजना शुरू की गई है। जिससे विशेष रूप से गरीब वर्ग केे लोगों को राहत मिलेगी। उन्होंने भणियाणा दौरे के दौरान पत्रिका से बातचीत करते हुए बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण के कारण गत दो माह से देशभर में लॉकडाउन चल रहा है। जिसके कारण यातायात के साधनों को भी बंद करवा दिया गया है। उन्होंने बताया कि इस दौरान कई लोगों का निधन भी हुआ, लेकिन लॉकडाउन में यातायात के साधन बंद होने से दिवंगत आत्माओं के परिजन अस्थियों को गंगा विसर्जन के लिए नहीं ले जा सके और वे अस्थियों को लेकर हरिद्वार जाने का इंतजार कर रहे है। उन्होंने बताया कि हिन्दू रीति रिवाज के अनुसार जब तक परिवारजन अस्थियों को हरिद्वार की गंगा नदी में विसर्जन नहीं करते, तब तक मोक्ष प्राप्ति नहीं मानी जाती है। इसी को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की ओर से मोक्ष कलश विसर्जन योजना शुरू की गई है। इस योजना के अंतर्गत जिस परिवार में किसी व्यक्ति की मृत्यु हुई है, तो दो व्यक्तियों को हरिद्वार तक की यात्रा नि:शुल्क करवाई जाएगी। इस योजना के लिए उन्होंने मुख्यमंत्री का आभार जताया है।
यह है योजना
केबिनेट मंत्री शाले मोहम्मद ने बताया कि योजना के अंतर्गत एक मोक्ष कलश के साथ अधिकतम दो व्यक्ति हरिद्वार तक की नि:शुल्क यात्रा कर सकते है। उन्होंने बताया कि हरिद्वार जाने व आने दोनों तरफ की यात्रा नि:शुल्क होगी और एक ही वाहन में आना-जाना होगा। उन्होंने बताया कि हरिद्वार में भी अस्थि विसर्जन का पर्याप्त समय दिया जाएगा। इसके लिए आरएसआरटीसी की वेबसाइट पर पंजीयन करवाना होगा। ऑनलाइन पोर्टल में दिवंगत का नाम, मृत्यु की दिनांक, साथ यात्रा करने वाले दोनों व्यक्तियों की संपूर्ण जानकारी, यात्रा शुरू करने वाले जिले का नाम आदि जानकारियां देनी होगी। पंजीयन होने के बाद व्यक्ति को बस नंबर व अन्य जानकारियां रोडवेज की ओर से दे दी जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रत्येक जिले से बसों का संचालन किया जाएगा और लोग अपने दिवंगत परिजन की अस्थियां गंगा नदी में विसर्जित कर सकेंगे। उन्होंने आमजन को इस योजना की आरएसआरटीसी की वेबसाइट से पूरी जानकारी प्राप्त कर इसका लाभ अर्जित करने का आह्वान किया है।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned