scriptBrain horses will run to become a saab | सा'ब बनने को दौड़ाएंगे दिमागी घोड़े | Patrika News

सा'ब बनने को दौड़ाएंगे दिमागी घोड़े

-आरएएस एवं अधीनस्थ सेवाएं (संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा) २०२१ कल
्र-जैसलमेर में पांच हजार अ यर्थी देंगे परीक्षा
-मुख्यालय पर स्थापित होंगे १७ केंद्र

जैसलमेर

Published: October 26, 2021 08:38:44 am


जैसलमेर. राजस्थान की सबसे प्रतिष्ठित सेवा आरएएस एवं अधीनस्थ सेवाओं के लिए संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा बुधवार को राज्य भर की भांति जैसलमेर जिला मुख्यालय पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच संपन्न होगी। जिले के हजारों अ यर्थी जिनमें महिलाओं और बालिकाओं की सं या भी अच्छी खासी है, यह परीक्षा देंगे। अधिकांश महिला वर्ग की परीक्षा जैसलमेर मुख्यालय पर स्थापित १७ केंद्रों पर देंगे वहीं बाहरी जिलों से भी अ यर्थी यहां परीक्षा देने आएंगे जबकि यहां के पुरुष अ यर्थी रीट और पटवारी की तरह साहब बनने की यह परीक्षा देने अन्य जिलों में जाएंगे। जिला प्रशासन की निगरानी में आयोजित होने जा रही परीक्षा के लिए सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए जाने के साथ प्रश्रपत्र को लीक होने और नकल को रोकने के लिए सभी उपाय किए जा रहे हैं। प्रश्रपत्र यहां पहुंच चुके हैं तथा उन्हें पुलिस की निगरानी में कोषागार में रखवाया गया है।
अधिकारियों की रहेगी मोनेटरिंग
प्रतिष्ठापूर्ण परीक्षा को फुलप्रूफ ढंग से संपन्न करवाने के लिए जिला प्रशासन की तरफ से अपने अधिकारियों को इसमें जोड़ा जाने वाला है। प्रत्येक छह केंद्रों पर एक ऑब्जर्वर दल गठित किया जाएगा। जिसमें एक आरएएस और एक आरपीएस अधिकारी के नेतृत्व में अन्य कार्मिक व पुलिस जाब्ता रहेगा। परीक्षा केंद्र सरकारी व निजी स्कूलों में रीट परीक्षा की भांति स्थापित किए गए हैं। वहां मु य रूप से सरकारी तंत्र ही परीक्षा करवाएगा। इनमें वीक्षकों की ड्यूटी भी प्रशासन के स्तर से लगाई जाएगी। हालांकि शिक्षा विभाग के अधिकारियों को इसमें सहयोग लिया जा रहा है।
दिन-रात की है तैयारी
जैसलमेर जिले में पिछले अर्से के दौरान प्रतियोगी परीक्षाओं को लेकर सकारात्मक माहौल बना है। आरएएस और अधीनस्थ सेवाओं में जाने के प्रति भी जिले के युवाओं में खासा उत्साह है। सैकड़ों की तादाद में अ यर्थी पिछले कई महीनों से दिन-रात तैयारी में जुटे हैं। इसके लिए गांवों के युवा शहर में आकर बसे हुए हैं। उनमें भी शहरी तबके के जैसा ही जोश-खरोश है। शहर में आधा दर्जन से अधिक लाइब्रेरियों में सुबह से देर रात तक एकाग्रचित्त होकर अ यर्थी अध्ययन में जुटे नजर आते हैं तो कई युवा यहां से बाहरी शहरों में जाकर इस परीक्षा के लिए कोचिंग ले चुके हैं।
सा'ब बनने को दौड़ाएंगे दिमागी घोड़े
सा'ब बनने को दौड़ाएंगे दिमागी घोड़े
अलग से बॉक्स में लगवाएं -
इंटरनेट बंदी होगी!
आरएएस परीक्षा के मद्देनजर बुधवार को सुबह से दोपहर या अपराह्न तक इंटरनेट बंद रखे जाने की पूरी संभावना है क्योंकि हाल में अन्य जिलों में आयोजित पटवारी प्रतियोगी परीक्षा के दौरान इंटरनेट बंद रखा गया था। इससे पहले रीट परीक्षा के लिए भी राज्य के अन्य क्षेत्रों में इंटरनेट ठप किया गया था। उस समय जैसलमेर में उपराष्ट्रपति आए हुए थे, लिहाजा प्रशासन ने यहां इंटरनेट बंद नहीं करवाया था। अब ऐसी कोई वजह नहीं है। ऐसे में यह तय माना जा रहा है कि संभागीय आयुक्त के स्तर से अन्य जिलों की भांति जैसलमेर मु यालय पर भी आरएएस परीक्षा के दौरान कुछ घंटों के लिए इंटरनेट बंद रखा जाएगा।
परीक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता
आरएएस परीक्षा के सफल आयोजन के लिए सभी उपयुक्त व्यवस्थाएं की जा रही हैं। यह परीक्षा प्रशासन की सर्वोच्च प्राथमिकता पर है। सुरक्षा के लिए भी हमारी पूरी तैयारी है।
-हरिसिंह मीना, अतिरिक्त जिला कलक्टर, जैसलमेर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

PM मोदी की मौजूदगी में BJP केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक आज, फाइनल किए जाएंगे UP, उत्तराखंड, गोवा और पंजाब के उम्मीदवारों के नामक्‍या फ‍िर महंगा होगा पेट्रोल और डीजल? कच्चे तेल के दाम 7 साल में सबसे ऊपरतो क्या अब रोबोट भी बनाएंगे मुकेश अंबानी? इस रोबोटिक्स कंपनी में खरीदी 54 फीसदी की हिस्सेदारीशॉपिंग मॉल्स को नहीं है पार्किंग वसूलने का अधिकार, कोर्ट ने बताई वजहPunjab: ED की बड़ी कार्रवाई, सीएम चन्नी के भतीजे के यहां से 6 करोड़ की नगदी बरामदतो क्या अब रोबोट भी बनाएंगे मुकेश अंबानी? इस रोबोटिक्स कंपनी में खरीदी 54 फीसदी की हिस्सेदारीPost office के पिन कोड से तैयार किया फॉर्मूला, आसान हुई कैमिस्ट्री की पढ़ाईMP Board; कक्षा 10वीं और 12वीं की प्री बोर्ड परीक्षा कल से
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.