बकायादारों के कनेक्शन काटने का अभियान शुरू, काटे 42 जनों के कनेक्शन

- लगाए जाएंगे राजस्व वसूली शिविर

By: Deepak Vyas

Published: 06 Feb 2021, 07:35 PM IST

पोकरण. डिस्कॉम की ओर से कस्बे सहित आसपास ग्रामीण क्षेत्र में बकायादार उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटने की कार्रवाई शुरू की गई है। जिसके अंतर्गत शुक्रवार को 42 जनों के कनेक्शन काटे गए है। सहायक अभियंता मनीषकुमार ने बताया कि कस्बे सहित आसपास के गांवों व ढाणियों में कई ऐसे उपभोक्ता है, जो समय पर अपना विद्युत बिल का भुगतान नहीं कर रहे है। उन्होंने बताया कि इन उपभोक्ताओं को समय-समय पर नोटिस भी जारी किया गया, लेकिन न तो नोटिस का जवाब दिया जा रहा है, न ही बकाया राशि जमा की जा रही है। उन्होंने बताया कि इस संबंध में उच्चाधिकारियों से बात करने पर उनकी ओर से अभियान चलाकर ऐसे उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटने के निर्देश दिए गए। उन्होंने बताया कि उच्चाधिकारियों के निर्देश पर शुक्रवार को बकायादारों के कनेक्शन काटने की कार्रवाई शुरू की गई है। जिसके अंतर्गत पोकरण कस्बे सहित आसपास क्षेत्र में सर्वे अभियान चलाया गया। उन्होंने बताया कि तकनीकी कार्मिकों की एक टीम का गठन किया गया है। टीम की ओर से शुक्रवार को 42 बकायादारों के कनेक्शन चिन्हित कर उनके विद्युत कनेक्शन काटने की कार्रवाई की गई। उन्होंने बताया कि इन उपभोक्ताओं के लम्बे समय से राशि बकाया पड़ी है। उन्होंने अन्य उपभोक्ताओं को भी अपनी बकाया राशि जमा करवाने का आह्वान किया है। उन्होंने बताया कि यदि उपभोक्ताओं की ओर से अपनी बकाया राशि जमा नहीं करवाई जाती है, तो उनके कनेक्शन काटने की कार्रवाई की जाएगी।
लगाए जाएंगे राजस्व वसूली शिविर
सहायक अभियंता मनीषकुमार ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में बकायादारों से राशि वसूल करने के लिए राजस्व वसूली शिविरों का भी आयोजन किया जा रहा है। जिसके अंतर्गत आठ फरवरी को डिडाणिया, नौ को नेड़ान, 10 को रामदेवरा व 12 फरवरी को भैंसड़ा गांव में राजस्व वसूली शिविर आयोजित किया जाएगा। उन्होंने उपभोक्ताओं से अपनी बकाया राशि जमा करवाने, त्रुटिपूर्ण बिलों में सुधार करवाने का आह्वान किया है। उन्होंने बताया कि शिविर के दौरान इन गांवों के बकायादारों उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटने की कार्रवाई की जाएगी।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned