ग्राम पंचायतों को ठोस एवं तरल संसाधन प्रबंधन के लिए मिलेंगे 20 लाख

ग्राम पंचायतों को ठोस एवं तरल संसाधन प्रबंधन के लिए मिलेंगे 20 लाख

Deepak Vyas | Publish: Sep, 08 2018 06:13:38 PM (IST) Jaisalmer, Rajasthan, India

ग्राम पंचायतों मे ठोस एवं तरल संसाधन प्रबंधन पर पंचायत समिति जैसलमेर एवं पंचायत समित सम के सरपंच, पंचायत प्रसार अधिकारी, तकनीकी सहायक, ग्राम विकास अधिकारियों की कार्यशाला कलक्ट्रेट परिसर स्थित डीआरडीए सभागार में आयोजित की गई।

जैसलमेर. ग्राम पंचायतों मे ठोस एवं तरल संसाधन प्रबंधन पर पंचायत समिति जैसलमेर एवं पंचायत समित सम के सरपंच, पंचायत प्रसार अधिकारी, तकनीकी सहायक, ग्राम विकास अधिकारियों की कार्यशाला कलक्ट्रेट परिसर स्थित डीआरडीए सभागार में आयोजित की गई। कार्यशाला को मुख्य कार्यकारी अधिकारी रामेश्वर मीना ने बताया कि जिले की सभी ग्राम पंचायतों में ठोस एवं तरल संसाधन प्रबंधन की कार्ययोजना बनाई जाएगी । उन्होंने बताया की ग्राम पंचायत में 150, 300 व 500 व उससे अधिक परिवार होने पर ग्राम पंचायत को क्रमश: 7 लाख, 12 लाख, 15 लाख व 20 लाख रुपए स्वच्छ भारत मिशन (ग्रा.) योजना से दिए जाने का प्रावधान है । आगामी 20 लाख रुपए तक केन्द्र एवं राज्य प्रवर्तित योजनाओं से डवटेल किया जा सकेगा। अधिशासी अभियंता फकीरचन्द ने बताया कि विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार करते समय पीआरए टूल का उपयोग कर ग्राम पंचायत में प्रतिदिन एकत्र होने वाले कचरे का आंकलन करते हुए उसके निस्तारण के लिए उपयुक्त तकनीकी का चयन कर परियोजना प्रस्ताव तैयार करेंगे। उन्होंने बताया कि विस्तृत परियोजना रिपोर्ट में सामुदायिक कचरा पात्र, वर्मी कम्पोस्ट, ट्राई साइकिल, कचरा संग्रहण केन्द्र, रिसोर्स रिकवरी सेंटर आदि कार्य शामिल किए जाएंगे। जिला समन्वयक किशोर बिस्सा ने बताया की ठोस एवं तरल संसाधन प्रबंधन का उद्देश्य गंावो मे ठोस एवं तर कचरा निस्तारण के लिए लगातार कार्य करने वाली व्यवस्था की स्थापना करना एवं ठोस कचरे प्रबंधन से पुन: प्रयोग मे लाये जाने योग्य सामग्री व अनुपयोगी सामग्री को पृथक कर इसका उपयोग सुनिश्चित करना हैं। जिला समन्वयक गणपत जोशी ने बताया कि घरेलू स्तर पर गीला एवं सुखे कचरे के संग्रहण प्रत्येक घर में कचरा पात्र हरा एवं लाल रखने के लिए प्रेरित किया जाएगा। कचरे का एकत्रीकरण पृथक-पृथक किया जाएगा। लाभार्थी को दो कचरा पात्र लाल एवं हरा रखने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। कार्यशाला में एमआईएस सहायक देवीलाल रंगा, ब्लॉक समन्वयक अलाउदीनखान, कुमार गौरव बिस्सा ने सहयोग किया ।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned