script पाइपलाइन लीक, पोकरण से बालोतरा तक बंद रहेगी जलापूर्ति | Pipeline, burnt restaurant will remain closed from Pokaran to Balotra | Patrika News

पाइपलाइन लीक, पोकरण से बालोतरा तक बंद रहेगी जलापूर्ति

locationजैसलमेरPublished: Jan 05, 2024 08:28:23 pm

Submitted by:

Deepak Vyas

- ठीक करने का कार्य शुरू, आए दिन हो रही समस्या

पाइपलाइन लीक, पोकरण से बालोतरा तक बंद रहेगी जलापूर्ति
पाइपलाइन लीक, पोकरण से बालोतरा तक बंद रहेगी जलापूर्ति

पोकरण क्षेत्र के चांदसर गांव के पास पोकरण-फलसूंड-बालोतरा-सिवाणा पेयजल लिफ्ट परियोजना की पाइपलाइन लीकेज हो जाने के कारण परियोजना से जुड़े पोकरण व बालोतरा कस्बे के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में जलापूर्ति बंद रहेगी। गौरतलब है कि इंदिरा गांधी नहर से जुड़ी पोकरण-फलसूंड-बालोतरा-सिवाणा पेयजल लिफ्ट परियोजना के अंतर्गत नाचना से बीलिया हेडवक्र्स तक पाइपलाइन लगाई गई है। बीलिया हेडवक्र्स पर पानी को फिल्टर करने के बाद पोकरण व बालोतरा कस्बे के साथ 400 से अधिक गांवों में करीब 5 लाख की आबादी को जलापूर्ति की जाती है। क्षेत्र के चांदसर गांव के पास 1500 एमएम व्यास की एमएस पाइपलाइन गत कुछ दिनों से लीकेज पड़ी है। जिसके कारण अत्यधिक पानी व्यर्थ बह रहा है। इसी को लेकर शुक्रवार रात 10 बजे से पाइपलाइन की मरम्मत का कार्य शुरू किया गया है, जो करीब 24 घंटे तक जारी रहेगा। इसके लिए परियोजना का शटडाउन जरूरी हो गया है। परियोजना खंड नाचना के अधिशासी अभियंता रामपाल जीनगर ने बताया कि शुक्रवार रात 10 बजे से शटडाउन लिया गया है। इसके बाद पाइपलाइन की मरम्मत का कार्य शुरू किया जाएगा। इसमें करीब 24 घंटे का समय लगेगा। पाइपलाइन ठीक होने के बाद बीलिया हेडवक्र्स पर पानी की आपूर्ति की जाएगी। इसके बाद यहां से फिल्टर कर जलापूर्ति शुरू की जाएगी। तब तक क्षेत्र में पानी की आपूर्ति बंद रहेगी।

एयरवॉल्व से भी बह रहा पानी, करेंगे ठीक

अधिशासी अभियंता जीनगर ने बताया कि पाइपलाइन लीकेज होने से अत्यधिक जलस्त्राव हो रहा है। इसी को लेकर पाइपलाइन को ठीक करने का कार्य शुरू कर दिया गया है। साथ ही यहां पाइपलाइन पर लगे कुछ एयरवॉल्व भी लीकेज है और जलस्त्राव हो रहा है। उनकी भी मरम्मत कर ठीक किया जाएगा। उन्होंने बताया कि उच्चाधिकारियों से परामर्श व निर्देशों की अनुपालना में शुक्रवार से शटडाउन लिया गया है। शनिवार की रात तक पाइपलाइन को ठीक कर जलापूर्ति शुरू कर दी जाएगी।

आए दिन हो रही समस्या

परियोजना के तहत लगाई गई पाइपलाइन के लीकेज होने की समस्या आम हो गई है। आए दिन क्षेत्र के अजासर व चांदसर गांवों के पास पाइपलाइन लीकेज हो जाती है। जिसे ठीक करने के लिए शटडाउन लेना आवश्यक है। पीछे से तेज गति व बहाव से आने वाले पानी को रोकने के बाद ही पाइप को ठीक किया जा सकता है। गत 7 अगस्त को भी अजासर गांव के पाइप क्षतिग्रस्त हो गया था और उसे ठीक करने में 3 से 4 दिन का समय लगा था। इसके बाद 25 अक्टूबर को भी अजासर गांव के पास ही पाइपलाइन लीकेज हुई थी। जिसे दो दिन में ठीक किया गया था। इस दौरान पोकरण व बालोतरा कस्बे के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में जलापूर्ति बंद रही और 5 लाख से अधिक लोगों को परेशानी से रु-ब-रु होना पड़ा था। अब फिर पाइप लीकेज हो गया और शटडाउन लेकर इसे ठीक करने का कार्य शुरू किया गया है। आए दिन पाइपलाइन लीकेज हो जाने के कारण लोगों को परेशानी हो रही है।

ट्रेंडिंग वीडियो