चोरी व लूट के खुलासे की मांग को लेकर 10 दिन में दूसरी बार संपूर्ण बंद रहा सांचौर

समस्त व्यापार महासंघ की ओर से शहर में चोरी व लूट की घटना के विरोध में शनिवार को संपूर्ण सांचौर के बंद का आह्वान किया गया। इस दौरान व्यापारियों ने संपूर्ण प्रतिष्ठान बंद रखकर पुलिस व प्रशासन की कार्यशैली को लेकर रोष जताया। वहीं चोरी व लूट के खुलासे को लेकर 10वें दिन भी धरना जारी रख एसडीएम को सीएम के नाम ज्ञापन सौंपा। वहीं पुलिस की मिलीभगत के विरोध में 4 पीडि़त व्यापारियों की भूख हड़ताल तीसरे दिन भी जारी रही

By: Dharmendra Kumar Ramawat

Updated: 28 Feb 2021, 09:13 AM IST

सांचौर. समस्त व्यापार महासंघ की ओर से शहर में चोरी व लूट की घटना के विरोध में शनिवार को संपूर्ण सांचौर के बंद का आह्वान किया गया। इस दौरान व्यापारियों ने संपूर्ण प्रतिष्ठान बंद रखकर पुलिस व प्रशासन की कार्यशैली को लेकर रोष जताया। वहीं चोरी व लूट के खुलासे को लेकर 10वें दिन भी धरना जारी रख एसडीएम को सीएम के नाम ज्ञापन सौंपा। वहीं पुलिस की मिलीभगत के विरोध में 4 पीडि़त व्यापारियों की भूख हड़ताल तीसरे दिन भी जारी रही। इस दौरान व्यापार महासंघ के पदाधिकारियों ने आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस अपनी जिम्मेदारी से बचने के लिए वारदात के खुलासे के बगैर ही अधिकारियों को हटाकर मुद्दे से ध्यान हटाना चाहती है। जिसे सहन नहीं किया जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि व्यापारी से लूट व चोरी की वारदातों के खुलासे सहित चोरी हुआ माल पीडि़त को देने की मांग पिछले लंबे समय से कर रहे हैं। वहीं दोषी अधिकारी को संस्पेंड करने की मांग भी की जा रही है। ऐसे में अब थानाप्रभारी को लाइन हाजिर कर आंदोलन को कमजोर करने की कोशिश की जा रही है। इस दौरान रूपाराम गहलोत, मोतीलाल कांवा, इन्द्रसिंह, छोगाराम चौधरी, तलछाराम, पुनमाराम पूनीया, गंगाराम पूनीया, देवीलाल राठी, भरतसिंह, जवाराराम सुथार, सांवलाराम माली, भगवानाराम माली, राणाराम, डूंगराराम, तेजाराम, हीरालाल, तारांचद, लक्ष्मणराम सहित कई जने मौजूद थे।
निलंबन पर अड़े व्यापारी
समस्त व्यापार महासंघ के अध्यक्ष हरीश पुरोहित ने कहा कि अगर पुलिस की मिलीभगत नहीं है, तो थानाप्रभारी को लाइन हाजिर करने की वजह क्या है। जब पुलिस के आला अधिकारी वारदातों को लेकर दबी जुबान गलती स्वीकार कर रहे हैं तो ऐसे में मामले में लिप्त दोषियों के निलम्बन से कम कुछ भी मंजूर नहीं होगा।
अपराधी की कोई जाति नहीं होती
धरने के दौरान कांग्रेस पार्षद बीरबल बिश्नोई ने कहा कि अपराध करने वाला अधिकारी हो या कोई आमजन उसकी कोई जाति नहीं होती है। जो गलती करेगा और कानून तोड़ेगा उसे सजा मिली चाहिए। इसको लेकर संघर्ष जारी रहेगा। पूर्व विधायक जीवाराम चाधरी ने कहा कि एसपी से वार्ता के बाद कुछ तथ्यों की जांच की आवश्यकता है। इसको लेकर विचार करना होगा। ताकि आंदोलन का कोई हल निकाला जा सके।
अपराधियों के हौसले बुलंद
धरने के दौरान माधुसिंह विरोल ने कहा कि चोरी व लूट की वजह से शहर में खौफ का माहौल है। पुलिस की ओर से धरने के 10 दिन बाद भी कोई हल निकला जा रहा है। जिससे अपराधियों के हौसले बुलन्द हो रहे हैं। अमराराम माली ने कहा कि प्रशासन हर दिन वार्ता के बहाने व्यापारियों को गुमराह कर रहा है। उच्च स्तर के अधिकारियों से वार्ता के बाद ही हल निकल सकेगा। स्थानीय अधिकारियों की मिलीभगत से न्याय की उम्मीद करना भी बेमानी है।
सांचौर थानाप्रभारी को किया लाइन हाजिर
शहर में चोरी व लूट के मामले में समस्त व्यापार महासंघ की ओर से लगातार दोषी अधिकारियों के निलम्बन की मांग को लेकर चल रहे आंदोलन के बाद एसपी श्यामसिंह ने सांचौर थानाप्रभारी अरविन्द पुरोहित को लाइन हाजिर कर दिया है। वहीं दूसरी ओर समस्त व्यापार महासंघ ने सांचौर थानाप्रभारी को लाइन हाजिर करना गलत बताते हुए पीडि़त व्यापारियों का सामान रिकवर करने का कहते हुए इसे मुद्दे से भटकाने की वाली बात बताई।
चार जनों की भूख हड़ताल चौथे दिन जारी
पुलिस की ओर से व्यापारियों की मांगें नहीं मानने के विरोध में सम्पूर्ण सांचौर बंद पूर्ण रूप से सफल रहा । इस दौरान दवा दुकानें भी बंद रही। व्यापारियों ने ऐलान किया कि जब तक मांगें नहीं मानी जाएगी, धरना जारी रहेगा। समस्त व्यापार महासंघ के धरने में 4 जनों तगाराम माली, नेताराम चौधरी, अमलोकदास माहेश्वरी सुरेन्द्र भाटी का आमरण अनशन जारी रहा।
इनका कहना है...
व्यापारियों की मांग को लेकर पुलिस अनुसंधान जारी है। सांचौर थानाप्रभारी को लाइन हाजिर किया गया है। भूख हड़ताल पर बैठे लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण भी किया जा रहा है। धरनार्थियों से समझाइश का प्रयास किया कर रहे हैं।
- दशरथसिंह, एएसपी, सांचौर

Dharmendra Kumar Ramawat Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned