सीसीटीवी फुटेज से मिला सुराग, चांपा से लापता तीनों मासूम बिलासपुर में मिले, परिजनों ने ली राहत की सांस

Missing innocent Found: चांपा से तीन स्कूली बच्चों के लापता के बाद क्षेत्र में सनसनी फैल गई थी। रिपोर्ट के बाद पुलिस ने सरगर्मी से मासूमों की तलाश शुरू कर दी थी। सीसीटीवी फुटेज से मासूम का सुराग मिला। फिर...

जांजगीर-चांपा. चांपा के सहिस मोहल्ला भैसा बाजार के तीन मासूम बच्चों का आखिरकार सुराग मिल गया। तीनों बच्चे किसी तरह बिलासपुर पहुंच गए थे। मामले की सूचना पर पुलिस तीनों बच्चों की तलाश सरगर्मी से की जा रही थी। शनिवार की देर रात तक पता चला कि तीनों बच्चे बिलासपुर के रेलवे स्टेशन में है। जिसे बिलासपुर की चाइल्ड लाइन की टीम अपने कब्जे में ले लिया है। बताया जा रहा है कि तीनों बच्चों को चांपा लाया जा रहा है। बच्चों के मिलने से परिजनों ने बड़ी राहत की सांस ली है।

गौरतलब है कि चांपा के भैसा बाजार, सहिस मोहल्ला के बच्चे निर्जला सहिस, संजना सहिस, पिता महावीर एवं सचिन सहिस शुक्रवार को जो पढऩे के लिए शासकीय प्राथमिक पुत्री शाला सेंट्रल बैंक चांपा के पास स्कूल जाने के लिए निकले थे। शुक्रवार की शाम को तीनों बच्चे स्कूल से नहीं लौटे। शुक्रवार की शाम को उनके परिजन अपने -अपने रिश्तेदारों से व आस-पड़ोस से पता तलाश किए, पर तीनों का पता नहीं चला। जगह-जगह पता लगाने पर देर रात तक 9 बजे चांपा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। चांपा पुलिस मामले की जांच करने जुट गई थी।

Read More: स्कूल गए तीन बच्चे नहीं लौटे घर, खोजे तो सड़क पर मिले कपड़े और ये सब, पुलिस के उड़ गए होश

शनिवार की सुबह राम बांधा तालाब के पाठक घाट के पास बच्चों का बस्ता मिला। यहां स्कूल यूनिफार्म मिलने पर सनसनी फैल गई। पुलिस पूरे शहर की सीसी टीवी फुटेज भी खंगाली। इसके बाद भी बच्चों का सुराग नहीं लगा। शनिवार की देर रात पता चला कि तीनों बच्चे बिलासपुर के रेलवे स्टेशन में हैं। उन्हें चाइल्ड लाइन की टीम ने अपने सुपुर्द कर लिया है।

सीसीटीवी से मिली सफलता
इस संबंध में चांपा एसडीओपी पद्मश्री तंवर ने बताया कि बच्चों की गुमशुदगी की सूचना मिलने पर हमने सीसीटीवी फुटेज खंगाले। जिसमें बच्चे घूमते फिरते स्टेशन तक जाते दिखे। तीनों बच्चे मस्ती के मूड में दिखाई दिए। उन्हें किसी ने किडनैप नहीं किया है। क्योंकि तीनों बच्चे स्वतंत्र रूप से घूमते दिखाई दिए। तीनों बच्चे सुरक्षित बिलासपुर में हैं। चाइल्ड लाइन की टीम उन्हें ला रही है। क्योंकि ऐसे मामले के एफआईआर दर्ज होने के बाद उन्हें छुड़ाने का प्रोसेस बड़ा होता है। प्रोसेस पूरा हो जाने के बाद उन्हें परिजनों को सौंपा जाएगा।

Read More : Chhattisgarh News

Vasudev Yadav
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned