मामा के घर छिपे थे हत्या के फरार दो आरोपी, पुलिस ने किया गिरफ्तार

Murder Case: दुर्घटनाकारित वाहन चालक की पिटाई से हो गई थी मौत, 6 मई 2019 की घटना

By: Vasudev Yadav

Published: 03 Jan 2020, 01:41 PM IST

जांजगीर-चांपा. बिर्रा थानांतर्गत ग्राम तालदेवरी में पांच माह पहले वाहन की चपेट में आकर पिता-पुत्री की दर्दनाक मौत हो गई थी। घटना के बाद दुर्घटनाकारित वाहन चालक की लोगों ने जमकर पिटाई कर दी थी। इससे वाहन चालक की भी मौत हो गई थी। इस मामले में तकरीबन एक दर्जन लोगों की पहले से गिरफ्तारी हो चुकी थी। वहीं दो आरोपी फरार थे, जिसे पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार कर जेल दाखिल कर दिया है।

Read More: 72 बोरियों में भरकर रखे थे ये अवैध सामान, टीम की दबिश में तीन पकड़ाए
बिर्रा पुलिस के अनुसार 6 मई 2019 को स्कार्पियो क्रमांक सीजी 22 एच 8034 के चालक प्रकाश भारती द्वारा सेमरिया मोड़ तालदेवरी के पास 10.30 बजे महादेव चंद्रा एवं उसकी बेटी परी उर्फ गुंजन को अपनी चपेट में ले लिया था। इससे महादेव व परी की मौके पर ही मौत हो गई थी। वहीं इस घटना से महादेव की पत्नी मधु एवं सोनसाय सतनामी भी गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इसके बाद भीड़ ने चालक की पिटाई कर दी थी और उसकी मौत भी हो गई थी।

Read More: चुनाव से पहले वोट मांगने आते हैं नेता, फिर भूल जाते हैं गांव का विकास, ग्रामीण करेंगे चुनाव का बहिष्कार

इस मामले में बिर्रा पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ जुर्म दर्ज किया था। एक दर्जन आरोपियों को पहले गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड में भेज दिया था। वहीं दो आरोपी बोरसी निवासी धनेश्वर चंद्रा (29) शिव कुमार चंद्रा (40) फरार थे। बताया जा रहा है कि दोनों आरोपी अपने मामा के यहां ठठारी में छिपे हुए थे, जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड में भेज दिया है।

Vasudev Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned