Chhattisgarh Board exam 2021: कोरोना संकट के बीच 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं को लेकर बड़ा फैसला

Chhattisgarh Board exam 2021: 10वीं की परीक्षाएं 15 अप्रैल से एक मई तक और 12वीं की 03 मई से 24 मई तक होनी है। सभी परीक्षाएं ऑफलाइन होंगी।

By: Mohit Saxena

Published: 06 Apr 2021, 11:44 PM IST

Chhattisgarh Board exam 2021: छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने कोरोना संक्रमण के मामलों के बीच 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं ऑफलाइन आयोजित करने की घोषणा की है। 10वीं की परीक्षाएं 15 अप्रैल से एक मई तक और 12वीं की 03 मई से 24 मई तक होनी है।

आदेश में कहा गया है कि छात्रों को प्रवेश पत्र के साथ परीक्षा केंद्रों पर नियमों के तहत आने-जाने की अनुमति होगी। केन्द्रों के अधिकारियों-कर्मचारियों को ड्यूटी के दौरान विशेष ऐहतियात बरतने को कहा गया है।

Read More: RBSE Board Exam 2021: राजस्थान बोर्ड परीक्षार्थियों के लिए बड़ी खबर, परीक्षा आयोजन को लेकर जल्द बनेगी रणनीति

बोर्ड का निर्णय है कि जो परीक्षार्थी कोरोना संक्रमण, लॉकडाउन, कंटेनमेंट जोन आदि के कारण किसी विषय या सभी विषयों की परीक्षा में अनुपस्थित रहते हैं, तो उनकी अंकसूची में अनुपस्थित न रहकर 'C' लिखा जाएगा।

अंक न देकर पास कर दिया जाएगा

ऐसे विद्यार्थियों को उस विषय में अंक न देकर पास कर दिया जाएगा। ऐसे विद्यार्थी,जिनकी अंकसूची में 'C' अंकित होगा। उनके लिए पूरक परीक्षा के साथ विशेष परीक्षा का आयोजन होगा। इस परीक्षा में मिले अंकों के आधार पर उनकी अंकसूची में "C" के स्थान पर प्राप्त अंक की सूची जारी की जाएगी। उन्हें श्रेणी भी दी जाएगी।

Read More: UPPSC ACF-RFO Mains Result 2020: आयोग ने एसीएफ और आरएफओ मुख्य परीक्षा के रिजल्ट किए घोषित, यहां से करें चेक

सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित करना होगा

शिक्षा मण्डल के सचिव के अनुसार सोशल डिस्टेंसिंग के मद्देनजर सभी मान्यता प्राप्त स्कूलों को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। परीक्षा कक्ष में प्रवेश से लेकर छात्रों की बैठक व्यवस्था में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित करना होगा। बैठक क्षमता के अनुरूप 50 प्रतिशत छात्रों को ही कक्ष में बैठाए जाने का निर्देश दिया गया।

इस दौरान छात्रों, शिक्षकों, अधिकारियों और कर्मचारियों को मास्क पहनना जरूरी होगा। परीक्षा केन्द्र को सेनेटाइज कर ही छात्रों, शिक्षकों और अधिकारियों-कर्मियों के हाथों को सेनेटाइज करने की व्यवस्था होगी। कोरोना पीड़ित छात्रों को किसी भी परिस्थिति में परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned