आईआईटी में बिक रहा है ड्रग्स, स्टूडेंट्स कर रहे हैं सेवन, मचा हड़कंप

Nitin Srivastava

Publish: Dec, 08 2017 11:20:55 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
आईआईटी में बिक रहा है ड्रग्स, स्टूडेंट्स कर रहे हैं सेवन, मचा हड़कंप

डीएम सूरेंद्र सिंह लाव-लश्कर के साथ आईआईटी पहुंचे...

कानपुर. शहर का नामी शिक्षण संस्थान आईआईटी पिछले कई माह से विवादों में चल रहा है। पहले रैगिंग को लेकर स्टूडेंट्स को बाहर किया गया, वहीं अब कैम्पस के साथ ही हॉस्टल में अंदर बड़े पैमाने पर ड्रग्स की बिक्री का मामला सामने आने पर हड़कंप मच गया। डीएम सूरेंद्र सिंह लाव-लश्कर के साथ आईआईटी पहुंचे और निदेशक मणीन्द्र अग्रवाल के साथ बैठक कर पूरे प्रकरण की जानकारी ली। डीएम ने संस्थान के अंदर बैरियर लगाकर आने-जाने वाले लोगों की सघन तलाशी के निर्देश दिए हैं। साथ ही कल्याणपुर और पनकी पुलिस को आस- पास के गांवों में इस कारोबार से जुड़े लोगों की धड़पकड़ को कहा है।

 

कई माह से बिक रहा था जहर

डीएम सूरेंद्र सिंह को शहर के नामी शिक्षण संस्थान आईआईटी में ड्रग्स की बिक्री की जानकारी हुई तो वो वहां लाव-लश्कर के साथ जा धमके। उन्होंने संस्थान के अफसरों के साथ बैठक की, जिसमें ये बात निकलकर आई है कि आसपास के गांव से कुछ लोग ड्रग्स को कैम्पस के अंदर लाकर बेच रहे हैं और इसका सेवन स्टूडेंट्स कर रहे हैं। डीएम सूरेंद्र सिंह ने बताया कि संस्थान प्रशासन से बैरियर लगाने को कहा गया है। साथ ही उनके वार्डन सख्ती करेंगे। अगर फिर भी कोई गांव वाला ड्रग्स बेचते पकड़ा गया तो कार्रवाई होगी। प्रशासन आईआईटी में ड्रग्स नहीं बिकने देगा। इसलिए बिना जांच पड़ताल के कोई भी अंदर नहीं घुसेगा। डीएम ने बताया कि नानकारी समेत आस-पास रहने वाले अन्य लोगों के लिए अब आईआईटी का मेन रास्ता बंद किया जाएगा। सिर्फ पैदल आने-जाने वाले लोग जांच पड़ताल कराकर अंदर जा सकेंगे। अब बिना चेकिंग कोई अंदर नहीं घुसेगा।


बिना पास के प्रवेश पर रोक

डीएम ने बताया कि आईआईटी परिसर के अंदर चल रहे केंद्रीय स्कूल के स्टूडेंट्स, टीचर व अन्य कर्मचारियों के लिए आईआईटी प्रशासन पास जारी करेग। बिना पास दिखाए कोई भी अंदर नहीं घुस पाएगा। अब सभी को गेट पर पास दिखाने के बाद ही इंट्री मिलेगी। साथ ही अब स्टूडेंट्स के कपड़े धोने के लिए लगाए गए 24 धोबियों को तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया है। स्टूडेंट्स के पकड़ों की धुलाई के लिए आईआईटी प्रशासन ने सभी हॉस्टलों में वाशिंग मशीन की व्यवस्था कर दी है। साथ ही कैंम्पस के अंदर जितने कब्जाधारक हैं उन्हें हटाया जाएगा। डीएम ने बताया कि शिक्षण संस्थान की सरुक्षा चाक-चौबंद हो इसके लिए यहां पुलिस बल तैनात किया जाएगा। डीएम ने बताया कि आईआईटी प्रशासन के साथ जिला और पुलिसबल के जवान ड्रग्स से जुड़े कारोबारियों पर नकेल कसेंगे। कैम्पस के अंदर एक भी गैरकानूनी कार्य नहीं होने दिया जाएगा।


बाहरी व्यक्ति के आने पर रोक

डीएम ने बताया कि आईआईअी निदेशक ने कुछ समस्या बताई है, जिसे जल्द से जल्द हल कराया जाएगा। इसके लिए संस्थान प्रशासन को खुद तैयारी करने का आदेश दिया गया है। जब उनकी तैयारी पूरी हो जाएगी तो नई व्यवस्था लागू कर दी जाएगी। बाहरी आवागमन आईआईटी में बंद कराया जाएगा। ड्रग्स बिकना रुकवाया जाएगा। आईआईटी के निदेशक मणीन्द्र अग्रवाल के मुताबिक जिलाधिकारी के साथ बैठक हुई है। इसमें रास्ता, ड्रग्स समेत अन्य बिंदुओं पर चर्चा हुई है। आस-पास रहने वाले लोगों का प्रवेश मेन गेट से होने से सुरक्षा में दिक्कत आ रही है। बाहरियों के आवागमन से आईआईटी में व्यवधान उत्पन्न हो रहा है। इसके लिए प्रशासन ने मदद का आश्वासन दिया है। नई व्यवस्था जल्द लागू होगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned