पहली बारिश में खुली सड़कों की पोल, जलभराव से बनी दरिया

जीरोता. करौली जिले के ग्रामीण इलाकों में पहली बारिश में ही सड़कों की हालत की पोल खोलकर रख दी है। जीरोता क्षेत्र के हाड़ौती रानेटा मार्ग पर हालत बहुत खराब है। लोगों को आवागमन में परेशानी हो रही है। एकट और खूबपुरा के बीच सड़क की हालत ठीक नहीं है। कुशालसिंह मोड़ के पास भी पानी भरा है। बारिश के दिनों में सड़क दरिया बन जाती है। सड़कें जगह-जगह से जर्जर हो रही है।

By: Jitendra

Updated: 21 Jul 2021, 07:58 PM IST



जीरोता. करौली जिले के ग्रामीण इलाकों में पहली बारिश में ही सड़कों की हालत की पोल खोलकर रख दी है। जीरोता क्षेत्र के हाड़ौती रानेटा मार्ग पर हालत बहुत खराब है। लोगों को आवागमन में परेशानी हो रही है। एकट और खूबपुरा के बीच सड़क की हालत ठीक नहीं है। कुशालसिंह मोड़ के पास भी पानी भरा है। बारिश के दिनों में सड़क दरिया बन जाती है। सड़कें जगह-जगह से जर्जर हो रही है। गड्ढो से वाहन चालकों को हादसे का अंदेशा रहता है। वाहन चालकों को इस मार्ग से गुजरने में परेशानी हो रही है। ग्रामीणों ने बताया कि इस समय बारिश के दौरान परेशानी अधिक हो रही है। समस्या के बारे में कई बार प्रशासन को अवगत कराया, लेकिन ध्यान नहीं दिया जा रहा। जलभराव वाली जगहों पर फिसलन और कीचड़ भी हो रहा है। बजरी की ओवरलोड ट्रॉलियों ने सड़कों की दशा खराब कर रखी है। जगह-जगह से सड़कें टूट गई है, जो बारिश के दौरान अधिक खराब हो रही है। इनकी शीघ्र ही मरम्मत नहीं कराई तो सड़कों का नामो निशान नहीं रहेगा। ग्रामीणों का कहना है कि कई जगह तो ऐसी जहां विभाग ने सड़क बनवाकर दुबारा कभी उसकी सुध नहीं ली। जिससे सड़क बनने के कुछ साल बाद ही वह टूट गई। समय पर मरम्मत नहीं कराने से नामो निशान मिट गया है।

Jitendra Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned