हिंडौन सिटी में PM मोदी ने कह दीं ऐसी-ऐसी बातें, विरोधियों के छूट जाएंगे पसीने, यहां जानें भाषण की एक-एक बातें

मसूद अज़हर का अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित होना हिंदुस्तान की तीसरी 'स्ट्राइक', पाकिस्तान की निकली हेंकड़ी

By: nakul

Published: 03 May 2019, 01:21 PM IST

 

पीएम मोदी को हिंडौन सिटी में हुए भाषण की HIGHLIGHTS
- कैलादेवी और महावीर जी की धरती को नरेंद्र मोदी की ढोक
- आज जब हम सब यहां एकत्रित हुए हैं तो उस समय देश के पूर्वी और दक्षिणी तट पर रहने वाले लाखों परिवार भीषण चक्रवात का सामना कर रहे हैं। ओडिशा, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और पुदुच्चेरी की सरकारों के साथ केंद्र सरकार लगातार संपर्क में है।
- कल ही हम इस चक्रवात से जूझ रहे राज्यों के लिए 1000 करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि जारी कर चुके हैं। NDRF, कोस्टगार्ड, भारतीय नौसेना और थल सेना पूरी मुस्तैदी के साथ प्रशासन के साथ जुटी हुई हैं।
- पांच वर्ष पहले पूरे देश ने, राजस्थान ने एक भरोसे के साथ अपने इस सेवक को देश के लिए काम करने का अवसर दिया था।
- राष्ट्रवाद से ओत-प्रोत इस माटी के एक-एक जन ने सभी की सभी सीटें भाजपा को दी थीं, ये सोचकर कि भारत की धाक दुनिया में हो: :
आज पूरी दुनिया में भारत का डंका बज रहा है।
- दो दिन पहले ही भारत के बहुत बड़े दुश्मन मसूद अजहर को दुनिया की सबसे बड़ी संस्था ने अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित किया है।
- पाकिस्तान में बैठा आतंकियों का ये आका कई बरसों से भारत को घाव पर घाव दे रहा था।
- सर्जिकल स्ट्राइक, एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान और आतंकवादियों के मंसूबों पर ये तीसरी बड़ी स्ट्राइक हुई है। अब आप बताइए पाकिस्तान की हेकड़ी निकली है या नहीं?
- आतंक और आतंकियों से निपटने के कांग्रेसी तरीके और भाजपा के तरीके की तुलना नहीं हो सकती।
- याद करिए, कांग्रेस कहती थी कि 'हर एक आतंकी हमले को रोकना मुमकिन नहीं है।
- जब केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी, तो आतंकी हमले रोजाना की बात थे।
- कोई भी शहर कांग्रेस के कार्यकाल में सुरक्षित नहीं था।
- 2008 में मुंबई में आतंकवादियों ने हमला किया। अगर सिर्फ 2008 की ही बात करे तो, वो न तो पहला आतंकी हमला था और न ही आखिरी।

- 2008 जनवरी में यूपी के रामपुर में CRPF कैंप पर हमला हुआ। उन्होंने मई में जयपुर में बम धमाके किए। बाद में उन्होंने, जुलाई में बेंगलुरू में सीरियल बम धमाके किए। फिर उन्होंने दिल्ली में सिर्फ सितंबर महीने में दो अलग-अलग आतंकी हमले किए।
- आज तक दो बार ही ऐसा हुआ है जब हिंदुस्तान में लोकप्रिय IPL हिंदुस्तान में नहीं खेला गया। ये 2009 और 20014 में हुआ। तबकी सरकार आतंकवादियों से कांपती थी। आतंकवाद से निपटने का उनमें दम नहीं था। तब उन्होंने कह दिया कि चुनाव के की वजह से हम IPL नहीं करेंगे।
- इस बार भी चुनाव चल रहा है, नवरात्रि हुई, रामनवमी हुई, हनुमान जयंती हुई, रमजान आने वाले हैं और IPL भी चल रहा है। पहले पूंछ दबाकर भाग जाने वाली सरकार थी, और ये मोदी सीना तान के जाता है। IPL होगा और डटकर होगा।
- आप गोली चलाओगे तो मोदी गोला चलाएगा। कांग्रेस को परेशानी है कि चुनाव चल रहे हैं और अबू धाबी, UAE मोदी को अवार्ड देता है।
- कांग्रेस को परेशानी है कि चुनाव चल रहे हैं और रूस मोदी को अवार्ड दे रहा है। देश की सुरक्षा की बेहतर स्थिति कांग्रेस को पसंद नहीं आ रही। मसूद अजहर के अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित होने की खुशी मनाने के बजाए कांग्रेस खुद का मजाक बना रही है।
- कांग्रेस कहती है कि चुनाव के समय ऐसा क्यों हुआ। ये क्या मोदी की कैबिनेट ने फैसला लिया है? पहले संयुक्त राष्ट्र को कांग्रेस से पूछना चाहिए था कि मैडम जी, नामदार जी, आप लोग जिन्हें 'जी' या 'साहब' कह कर बुलाते हैं, उन्हें हम अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित कर दें क्या?
आपको कोई दिक्कत तो नहीं होगी। कांग्रेस को लगता है कि मोदी सब अपने फायदे के लिए करा रहा है। कांग्रेस अपने फायदे और नुकसान के अलावा और कुछ सोच भी नहीं सकती।
- जिस हेलीकॉप्टर घोटाले में नामदार का परिवार फंसा है, उसके सबसे बड़े राजदार को भारत रातों रात उठवा कर अपने यहां ले आता है, तो कांग्रेस कहती है कि ये मोदी ने अपने फायदे के लिए किया है। जब हजारों करोड़ लूटने वाले को ब्रिटेन की सरकार भारत भेजने के लिए तैयार हो जाती है, तो भी कांग्रेस कहती है कि ये मोदी ने अपने फायदे के लिए करवाया।
- जब भारत अंतरिक्ष में सैटेलाइट को मारने वाली मिसाइल का परीक्षण करता है तो भी कांग्रेस कहती है ये मोदी ने अपने फायदे के लिए करवाया

- अगर कांग्रेस वाले गलती से भी आपके वहां वोट मांगने आयें, तो उन्हें एक छोटा सा रुमाल दे देना और कहना कि यार रोते क्यों हो, ये लो आंसू पोंछने के काम आयेगा। सारे कांग्रेसी रो रहे हैं कि मोदी ने ये किया मोदी ने वो किया। कांग्रेस को किसानों के फायदे में अपना नुकसान दिख रहा है।
- केंद्र सरकार, किसानों के खाते में पैसे जमा कराने के लिए यहां की सरकार से उनके नामों की लिस्ट मांग रही है। लेकिन यहां की कांग्रेस सरकार आनाकानी कर रही है। कांग्रेस वालों ये समझ लो कि कोई चूक हो जाए तो देश उसे माफ कर सकता है। लेकिन ये देश विश्वासघात को कभी माफ नहीं कर सकता। आपने विश्वासघात किया है, झूठ बोला है।
- कांग्रेस वाले 20वीं सदी में जिस तरह के खेल खेलते थे वैसे ही 21वीं में भी खेल रहे हैं। लेकिन उन्हें मालूम नहीं है कि 20वीं सदी में उन्हें मोदी नहीं मिला था । लेकिन अब ये मोदी है उनके सारे खेलों को जानता है।

 

प्रदेश में दो दिन बाद दूसरे चरण के तहत 12 सीटों पर होने वाले लोकसभा चुनाव का प्रचार थम जाएगा। इससे पहले भाजपा के स्टार प्रचारकों ने प्रत्याशियों के प्रचार में एड़ी-चोटी का दम लगा दिया है। पीएम नरेन्द्र मोदी की राजस्थान में एक ही दिन में तीन सभाएं रखी गईं। करौली-धौलपुर, सीकर और बीकानेर में प्रत्याशियों के समर्थन में चुनावी सभाओं लिए प्रदेश के दौरे पर हैं।

 

सबसे पहले पीएम नरेन्द्र मोदी करौली-धौलपुर के हिंडौन सिटी में चुनावी सभा को सम्बोधित करने पहुंचे। पांच माह पहले हुए विधानसभा चुनाव में करौली-धौलपुर और बीकानेर लोकसभा क्षेत्र की अधिकाश सीटों पर एससी वोट बैंक खिसक कर कांग्रेस के खाते में चला गया और यहां कांग्रेस का बेहतर प्रदर्शन रहा था।

 

इसी तरह शेखावाटी अंचल के प्रमुख लोकसभा क्षेत्र सीकर में भी गत विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का प्रदर्शन बेहतर रहा था। इस लोकसभा क्षेत्र में अधिकांश सीटों पर जाट वोट बैंक खिसक कर कांग्रेस के खाते में चला गया। लिहाजा यहां भी पार्टी प्रत्याशी को मजबूती देने के लिए पीएम नरेन्द्र मोदी की सभा करवाई गई है।

pm modi Prime Minister Narendra Modi
nakul Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned