खिलाड़ी दर-दर भटक रहे, मैदान की भूमि पर कब्जा कर बोई गेहूं की फसल

मैदान व वृक्षारोपण के लिए रखी गई थी जमीन...

By: Ashtha Awasthi

Published: 21 Feb 2021, 02:47 PM IST

कटनी। शहर में नाजायज फायदा उठा कर खेल मैदान को अपना निशाना बना धड़ल्ले से गेहूं फसल की खेती करने का मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक बहोरीबंद तहसील के ग्राम पंचायत बड़खेरा नीम के भटगवां तालाब व खेल मैदान की शासकीय भूमि खसरा में शासकीय राशि से ग्रामीणों के आम निस्तारण हेतु तालाब का निर्माण किया गया था। शेष भूमि खेल मैदान व वृक्षारोपण के लिए रखी गई थी।

जिसमें ग्राम का पूरा निस्तारण सुचारू रूप से चल रहा था लेकिन उक्त जमीन से लगी कृष्ण कुमार पिता भगवानदास गुप्ता कुआं के नाम भू अभिलेख में दर्ज है। ठीक उसी का नाजायज फायदा उठा कर पारस गुप्ता पिता भगवानदास गुप्ता कुआं निवासी तालाब व खेल मैदान को अपना निशाना बना धड़ल्ले से गेहूं की फसल बोकर, तालाब का पानी निकाल कर खेती करने लगा।

 

gettyimages-519696771-170667a.jpg

वहीं दूसरी ओर मवेशी पानी के अभाव में भटक रहे हैं और गांव का भी निस्तारण बंद कर दिया। गांव के लोगों द्वारा यदि किसी प्रकार की कोई शिकायत की जाती है तो झुठी मन-गढ़ंत कहानी रच अधिकारियों को गुमराह कर दिया जाता है और रौब जमाने का प्रयास कर अवैध कब्जा से ध्यान हटाने का षड्यंत्र रचा जा रहा, जो कि गमीणो की शिकायत में पूर्व में मौके से कब्जा हटाने को कहा गया था लेकिन नियमों को दरकिनार कर दिया है।

अब खेल मैदान के अभाव में गांव के खिलाड़ी दर-दर भटक रहे जब इसकी जानकारी सरपंच से ली गई तो उन्होंने अपना पल्ला झाड़ते हुए बताया कि मैं गांव के किसी भी व्यक्ति से बुराई नहीं करना चाहता जिसके कारण में अभी तक किसी अधिकारी को लिखित शिकायत नहीं दी।

Ashtha Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned