स्वास्थ्य सिस्टम की 'नाकामी' से महिला ने अस्पताल के गेट पर दिया बच्चे को जन्म

बार-बार बुलाने पर भी नहीं पहुंची 108 एंबुलेंस..परिजन ऑटो से प्रसूता को अस्पताल लाए..गेट पर ही हो गया बच्चे का जन्म...

By: Shailendra Sharma

Updated: 08 Apr 2021, 07:43 PM IST

कटनी. मध्यप्रदेश में एक बार फिर स्वास्थ्य सिस्टम की नाकामी की तस्वीरें सामने आई हैं। इस बार मामला कटनी का है जहां जिला अस्पताल के मेन गेट पर ही एक महिला ने बच्चे को जन्म दे दिया। महिला को उसके परिजन प्रसव पीड़ा होने के बाद ऑटो से अस्पताल लेकर पहुंचे थे लेकिन वो उसे वार्ड तक ले जा पाते इससे पहले ही गेट पर महिला ने बच्चे को जन्म दे दिया। महिला के परिजन का कहना है कि बार-बार 108 एंबुलेंस को फोन किया लेकिन एंबुलेंस नहीं आई।

देखें वीडियो-

एंबुलेंस न आने पर ऑटो से लेकर पहुंचे अस्पताल
देवगांव रैपुरा रीठी की रहने वाले 25 वर्षीय महिला तुलसा पति गुरुवेन्द्र सिंह को गुरुवार सुबह प्रसव पीड़ा हुई। प्रसव पीड़ा होने के कारण तुलसा के परिजन ने गांव की ही आशा कार्यकर्ता लीला बेन को बुलाया जिसने 108 पर कॉल कर एंबुलेंस भेजने के लिए निवेदन किया लेकिन गाड़ी बिजी होने का जवाब मिला। आशा कार्यकर्ता ने एक दो बार फिर फोन किया लेकिन हर बार यही जवाब मिला। इसके बाद परिजन और आशा कार्यकर्ता ने ऑटो से महिला को अस्पताल ले जाना तय किया। परिजन ऑटो से अस्पताल के गेट पर ही पहुंचे थे कि तुलसा ने बच्चे को जन्म दे दिया। फिलहाल जच्चा-बच्चा दोनों सुरक्षित हैं जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

ये भी पढ़ें- भाईचारे का संदेश : मुस्लिम परिवार ने शादी के कार्ड पर छपवाया 'श्री गणेशाय नम:'


पहले भी हो चुकी हैं ऐसी घटनाएं
बता दें कि ये पहली बार नहीं है जब वक्त पर एंबुलेंस न मिलने के कारण किसी महिला का प्रसव अस्पताल पहुंचने से पहले हुआ है। इससे पहले भी कई बार इस तरह के मामले सामने आ चुके हैं जिनमें कभी एंबुलेंस के इंतजार में तो कभी एंबुलेंस के न आने पर दूसरे वाहनों से अस्पताल ले जाते वक्त महिलाओं ने बच्चे को जन्म दे दिया।

देखें वीडियो-

Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned