खंडवा में मिला पहला कोरोना पॉजीटिव मरीज, किया आयसोलेट

-परिवार गया था विदेश यात्रा पर, तब से परिवार था होम क्वारेंटाइन
-क्वारेंटाइन के दौरान आया था बुखार, 2 अप्रैल को लिया था सैंपल
-पुलिस ने नागचून रोड स्थित क्षेत्र को किया सील, दुकानें भी नहीं खुलेगी

खंडवा.
कोरोना के कहर से अब तक बचा खंडवा में बुधवार को एक मरीज की पॉजीटिव रिपोर्ट आने के बाद सनसनी फैल गई। नागचून रोड निवासी 32 वर्षीय युवक की बुधवार शाम को आई जांच रिपोर्ट में उसे कोरोना पॉजीटिव पाया गया है। रिपोर्ट आते ही प्रशासन तत्काल हरकत में आया और कोरोना पॉजीटिव मरीज को तुरंत घर से लाकर जिला अस्पताल के कोविड-19 केयर सेंंटर में शिफ्ट किया गया है। साथ ही पुलिस ने पूरा क्षेत्र भी सील कर दिया है। मरीज के परिजनों का दोबारा सैंपल लेकर उन्हें घर में ही क्वारेंटाइन रहने की हिदायत दी गई है। साथ ही स्वास्थ्य विभाग अब मरीज की कान्टेक्ट हिस्ट्री भी पता लगा रहा है।
कलेक्टर तन्वी सुंद्रियाल ने बताया कि नागचून रोड निवासी 32 वर्षीय का परिवार मार्च माह में विदेश यात्रा पर गया था। वहां से लौटने के बाद पूरे परिवार की जांच की गई थी और परिवार को होम क्वारेंटाइन किया था। क्वारेंटाइन के दौरान युवक को बुखार की शिकायत हुई थी। जिसके बाद दो अप्रैल को उसका जांच सैंपल लेकर मेडिकल कॉलेज की वयरोलॉजी लैब भेजा गया था। बुधवार शाम को आई रिपोर्ट में उसे कोरोना पॉजीटिव पाया गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा शाम को मरीज के घर पहुंचकर सभी 12 सदस्यों की जांच की गई और सैंपल लिए गए है। वहीं, मरीज को आयसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। कलेक्टर तन्वी सुंद्रियाल ने बताया कि मरीज के घर के आसपास व क्षेत्र में गुरुवार से स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा सर्वे किया जाएगा। साथ ही मरीज व उसके परिवार के संपर्क में आने वालों की जानकारी भी ली जाएगी।
क्षेत्र को बदला कंटेंमेंट एरिया में
कलेक्टर तन्वी सुंद्रियाल ने बताया कि पूरे क्षेत्र को कंटेंमेंट एरिया में तब्दिल कर दिया गया है। इस क्षेत्र में अब बाहरी लोगों का आवागमन पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिया है। वहीं, आसपास के लोगों को भी घरों से बाहर निकलने से मना कर दिया गया है। इस क्षेत्र की सभी दुकानें भी पूरी तरह से बंद रहेगी, ताकि संक्रमण का खतरा न रहे। कलेक्टर ने जिले के लोगों से अपील की है कि घबराने की जरूरत नहीं है। कोरोना पॉजीटिव मरीज की हालत अभी ठीक है। उन्होंने लोगों से लॉक डाउन का सख्ती से पालने करने की अपील की है।
बुधवार को कोरोना जांच की 3 रिपोर्ट निगिटिव प्राप्त हुई
जिले में कोरोना का पहला पॉजीटिव मरीज मिलने के साथ ही अन्य लोगों की रिपोर्ट नेगिटिव आई है। बुधवार को इंदौर लैब से मिली जांच रिपोर्ट में तीन ओर संदिग्धों की रिपोर्ट नेगिटिव आई है। सीएमएचओ डॉ. डीएस चौहान ने बताया कि इससे पूर्व 14 मरीजों की रिपोर्ट नेगिटिव आ चुकी है। इस तरह अब तक कुल 17 मरीजों की जांच रिपोर्टे नेगिटिव प्राप्त हो चुकी है। डॉ. चौहान ने बताया कि अब तक कुल 64 मरीजों के सैंपल लिए गए है, जिसमें से 17 की रिपोर्ट नेगिटिव प्राप्त हो गई है व कुल 47 मरीजों की रिपोर्ट आना शेष है। उन्होंने बताया कि बुधवार को कुल 16 संदिग्ध मरीजों के सैंपल आवश्यक जांच के लिए मेडिकल कॉलेज इंदौर की वायरोलॉजी लेब भिजवाए गए है।
इलाज करने वाली पूरी टीम होगी क्वारेंटाइन
जिले में पहला कोरोना पॉजीटिव मरीज मिलने के बाद अब आयसोलेशन वार्ड में तैनात डॉक्टर्स, नर्स व सपोर्टिंग स्टाफ की पूरी टीम को भी क्वारेंटाइन किया जाएगा। आयासोलेशन वार्ड में पहले से ही एक महिला कोरोना संदिग्ध मिलने के कारण भर्ती है। जिसका इलाज करने वाले चार डॉक्टर्स, चार स्टाफ नर्स और चार सपोर्टिंग स्टाफ पहले से ही क्वारेंटाइन है। जिसमें से डॉक्टर्स को लेडी बटलर के पीछे क्वाटर में बनाए क्वारेंटाइन वार्ड में रखा गया है। वहीं, नर्से व सपोर्टिंग स्टाफ नर्सिंग होस्टल में बनाए गए वार्ड में क्वारेंटाइन है। इनके साथ ही अब कोरोना पॉजीटिव मरीज की जांच करने वाले डॉक्टर्स, सैंपल लेने वाले टैक्नीशियन व आयसोलेशन की तीसरी टीम भी क्वारेंटाइन रहेगी।

मनीष अरोड़ा Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned