छह साल के मासूम को पीट-पीटकर कर दिया लाल, फिर टीचर बोलीं- अपना बेटा समझकर मारा

छह साल के मासूम को पीट-पीटकर कर दिया लाल, फिर टीचर बोलीं- अपना बेटा समझकर मारा
school teacher misbehave story

deepak deewan | Updated: 13 Sep 2019, 12:42:08 PM (IST) Khandwa, Khandwa, Madhya Pradesh, India

मासूम को पीट-पीटकर कर दिया लाल

सिहाड़ा.
प्राइड कि ड्स एकेडमी स्कूल संचालक देवयानी दवे ने पहली के छात्र को प्रश्न का जवाब नहीं देने पर बच्चे को स्केल से पिटाई कर दी। पिता ने नाराजगी जाहिर की, उन्होंने कलेक्टर को पत्र लिख स्कूल संचालक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। मैडम ने परिजन से कहा कि मैनें बच्चे को अपना बेटा समझकर पिटाई की और पढ़ाई पर ध्यान देने के लिए कहा। आप उसे समझाओं वह नियमित स्कूल आए और पढ़ाई करें।

पहली के बच्चे को स्केल से पीटा

गणेश मालाकार ने बताया कि मेरा छह साल का बेटा अनुराग मालाकार सिहाड़ा में पहली कक्षा में पढ़ता है, लेकिन 11 सितंबर को मेरे पुत्र को प्राइड किड्स एकेडमी स्कूल संचालक ने मासूम बच्चे को इस तरह से मारा कि उसकी पीठ पर लाल निशान पड़ गए हैं। बच्चों के पिता ने मीडिया के सामने नाराजगी जाहिर की, उन्होंने कलेक्टर को पत्र लिख स्कूल संचालक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है।


पिटाई को गलत न समझें
मैडम ने परिजन से कहा कि मैनें बच्चे को अपना बेटा समझकर पिटाई की और पढ़ाई पर ध्यान देने के लिए कहा। आप अपने बेटे को समझाओं, इसे गलत न समझो। मेरा उद्देश्य उसे बेवजह पिटाई करना नहीं था। बच्चे का भविष्य सुधरे और वो आगे बढ़े इसलिए उसे डराना और धमकाना जरूरी है।

मैडम बोली-अपना बेटा समझ दवाब बनाया

मैं अपने बच्चे को भी पढ़ाई के लिए दबाव डालती और नहीं पढ़ता है तो उसकी पिटाई करती हूं। मुझे तो फीस मिल रही है अगर मैं चाहती तो उसे कुछ नहीं कहती है लेकिन इससे वह पढ़ाई पर ध्यान नहीं देता। आप उसे समझाओं वह नियमित स्कूल आए और पढ़ाई करें। पिटाई को गलत न समझे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned