सुमेरसिंह सोलंकी को मिला राज्यसभा का टिकट

सिंधिया के बाद भाजपा ने राज्यसभा का दूसरा उम्मीदवार किया घोषित
-बड़वानी एसबीएन पीजी कॉलेज के प्रोफेसर डॉ. सुमेरसिंह सोलंकी होंगे राज्यसभा उम्मीदवार
-आरएसएस से जुड़े होने का मिला फायदा, पूर्व में विधानसभा और लोकसभा के लिए भी सामने आई थी उम्मीदवारी

खंडवा. दो दिन से चल रहे मध्यप्रदेश में सियासी घमासान के बाद कांग्रेस पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा में जाते ही उन्हें भाजपा ने राज्यसभा सांसद का टिकट दिया है। वहीं, दूसरे उम्मीदवार के तौर पर निमाड़ अंचल को बड़ी सौगात मिली है। भाजपा ने दूसरे राज्ससभा सांसद के लिए बड़वानी के शहीद भीमानायक पीजी कॉलेज के प्रोफेसर डॉ. सुमेरसिंह सोलंकी का नाम घोषित किया है। हालांकि गुरुवार दोपहर तक इसकी अधिकृत पुष्टी नहीं हो पाई थी, लेकिन सोशल मीडिया पर चल रही चर्चाओं के अनुसार डॉ. सुमेरसिंह सोलंकी का नाम फायनल माना जा रहा है। डॉ. सोलंकी ने भी अपने राज्यसभा उम्मीदवार बनाए जाने की पुष्टी की है।
बड़वानी एसबीएन पीजी कॉलेज में इतिहास के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. सुमेरसिंह सोलंकी राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़े हुए हैं। माना जा रहा है कि संघ लॉबी से जुड़े होने और विवादों से दूर रहने के कारण उन्हें भाजपा ने राज्यसभा में भेजने का निर्णय लिया है। डॉ. सोलंकी खरगोन बड़वानी के पूर्व भाजपा सांसद मकनसिंह सोलंकी के रिश्ते में भतीजे है। उनका नाम पूर्व में वर्ष 2018 में बड़वानी विधानसभा उम्मीदवार और वर्ष 2019 में खरगोन बड़वानी के लिए सांसद उम्मीदवार के रूप में भी सामने आया था। यदि भाजपा राज्यसभा के लिए उनका नाम फायनल करती है तो भाजपा की ओर से राज्यसभा उम्मीदवारों की तस्वीर स्पष्ट हो जाएगी। भाजपा ने हाल ही में बीजेपी की सदस्यता लेने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया को राज्यसभा के लिए अपना उम्मीदवार बनाया है। ज्योतिरादित्य सिंधिया के सामने कांग्रेस की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री व पूर्व सांसद दिग्विजयसिंह उम्मीदवार होंगे। इस सीट पर कड़ा मुकाबला देखने को मिलेगा।

Jyotiraditya Scindia
मनीष अरोड़ा Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned