script मंडी में नया गेहूं 3101 रुपए प्रति क्विंटल बिका, समर्थन मूल्य मात्र 2275 रुपए | New wheat sold in the market at Rs 3101 per quintal | Patrika News

मंडी में नया गेहूं 3101 रुपए प्रति क्विंटल बिका, समर्थन मूल्य मात्र 2275 रुपए

locationखरगोनPublished: Feb 04, 2024 06:28:10 pm

Submitted by:

Amit Bhatore

किसानों ने कहा कि समर्थन मूल्य पर 2700 रुपए में खरीदे सरकार

मंडी में नया गेहूं 3101 रुपए प्रति क्विंटल बिका, समर्थन मूल्य मात्र 2275 रुपए
मंडी में नया गेहूं 3101 रुपए प्रति क्विंटल बिका, समर्थन मूल्य मात्र 2275 रुपए
मंडी में नया गेहूं 3101 रुपए प्रति क्विंटल बिका, समर्थन मूल्य मात्र 2275 रुपए

-किसानों ने कहा कि समर्थन मूल्य पर 2700 रुपए में खरीदे सरकार


खरगोन. समर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन के लिए प्रशानिक तैयारियां शुरू हो चुकी है। वर्तमान में सरकार ने 2275 रुपए प्रति क्विंटल गेहूं का समर्थन मूल्य निर्धारित किया गया है। किसान इस भाव से नाखुश दिखाई दे रहे हैं। किसानों का कहना है कि भाजपा ने सरकार बनने से पहले 2700 रुपए क्विंटल गेहूं खरीदने का वादा किया था। परंतु अब तक यह मूल्य घोषित नहीं किया है। इधर, कृषि उपज मंडी में नए गेहूं की आवक शुरू हो चुकी है। मुहूर्त में नए गेहूं का भाव 3101 रुपए क्विंटल गेहूं का भाव मिला है। इससे किसानों को आने वाले दिनों में अच्छे भाव मिलने की उम्मीद है। मंडी में ग्राम दसनावल के कृषक गुडिया का 15 क्विंटल नया गेहूं 3101 रुपए प्रति क्विंटल में खरीदा गया। व्यापारी बाबूभाई जैन ने बताया कि मंडी में नए गेहूं की आवक होने लगी है। किसानों को अच्छे भाव मिल रहे हैं। भारतीय किसान संघ के संभागीय अध्यक्ष श्यामसिंह पंवार ने कहा कि सरकार यदि 2700 रुपए प्रति क्विंटल गेहूं का समर्थन मूल्य घोषित नहीं किया जाता है तो प्रदेश में आंदोलन किया जाएगा।
पिछले साल सूने रह गए थे खरीदी केंद्र

समर्थन मूल्य पर पिछले वर्ष घोषित भाव से अधिक मूल्य बाजार में मिला था। यही वजह अधिकांश खरीदी केंद्र सूने रह गए थे। पिछले वर्ष 8 हजार 903 मीट्रिक टन गेहूं की खरीदी की गई थी। 67 खरीदी केंद्र बनाए गए थे। हालात यह बने कि करीब 18 हजार किसानों ने पंजीयन कराया था। परंतु मात्र 1450 किसानों ने ही समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचा था। पिछले वर्ष 2125 रुपए प्रति क्विंटल के भाव से समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदा गया था। इस सीजन में जिले में करीब दो लाख 20 हजार 878 हेक्टेयर रकबे में गेहूं की बाेवनी की गई है।
71 केंद्रों पर कल से शुरू होगा पंजीयन

जिला आपूर्ति अधिकारी भारतसिंह जमरे ने बताया ग्राम पंचायत, जनपद पंचायत कार्यालय, तहसील कार्यालय में स्थापित सुविधा केंद्र, सहकारी समितियों एवं विपणन संस्थाओं द्वारा संचालित पंजीयन केंद्रों पर किसानों का निशुल्क पंजीयन किया जाएगा। इन केंद्रों पर किसान सुबह सात से रात्रि नौ बजे तक शासकीय कार्य दिवसों में अपना पंजीयन करा सकते हैं। किसान एप के माध्यम से निशुल्क पंजीयन करा सकते हैं। एमपी ऑनलाइन कियोस्क, कॉमन सर्विस सेंटर, लोक सेवा केंद्र एवं निजी व्यक्तियों द्वारा संचालित सायबर कैफे पर सशुल्क पंजीयन की व्यवस्था है।

ट्रेंडिंग वीडियो