scriptWhole village people in shock no stove burnt in any house | महाराष्ट्र ट्रक हादसे में 13 मौतों का मामला : 500 लोगों की आबादी वाला पूरा गांव सदमे में, किसी घर में नहीं जला चूल्हा | Patrika News

महाराष्ट्र ट्रक हादसे में 13 मौतों का मामला : 500 लोगों की आबादी वाला पूरा गांव सदमे में, किसी घर में नहीं जला चूल्हा

अपनों का खोने का गम : 500 लोगों की आबादी वाले मेलखेड़ी के एक घर में भी नहीं जल रहा चूल्हा। राखी का त्योहार मनाने के लिए घर लौट रहे थे सभी मजदूर, पलभर में काफूर हो गई खुशियां।

खरगोन

Updated: August 22, 2021 12:17:16 pm

खरगोन/ महेश्वर. मध्य प्रदेश के खरगोन जिले की महेश्वर तहसील का छोटा सा ग्राम मेलखेड़ी। आबादी कोई 500। शुक्रवार सुबह तक इस काम में हर कोई अपने कामकाज में व्यस्त था। लेकिन जैसे ही महाराष्ट्र के बुलढाणा में हुई हादसे की खबर आई, तो हर कोई कांप उठा। तीन भाइयों के परिवार में चार बेटों की मौत से हर आंख नम है। परिजन की आंखों से आंसू नहीं रूक रहे। हादसे में किसी ने अपना बेटा, किसी ने भाई, तो किसी ने अपना पति खो दिया। इस कारण से गांव के एक भी घर में चूल्हा नहीं जला और ना ही किसी के गले से एक निवाला नीचे उतरा।

News
महाराष्ट्र ट्रक हादसे में 13 मौतों का मामला : 500 लोगों की आबादी वाला पूरा गांव सदमे में, किसी घर में नहीं जला चूल्हा

पूरी रात अपनों के इंतजार में गुजर गई और परिजन शोक मनाते रहे। उल्लेखनीय है कि, महाराष्ट्र के बुलढाण में सड़क हादसे में खरगोन और धार के 13 मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई थी। इसमें महेश्वर तहसील के आठ मजदूर भी शामिल हैं। ये सभी पिछले महीने से बाबा साहेब समृद्धि हाइवे के निर्माण में मजदूरी पर लगे हुए थे। जहां शुक्रवार को हादसे के चलते काल के गाल में समां गए। शनिवार दोपहर में इनका पीएम जालना अस्पताल में हुआ। तीन बजे के लगभगर शवों को अलग-अलग एंबुलेंस में रखकर नायब तहसीलदार अनिल मोरे व परिजन रवाना हुए। रविवार को सभी का अंतिम संस्कार कारम नदी किनारे कर दिया गया है।

पढ़ें ये खास खबर- 1 साल के पोते की जान बचाने तेंदुए से भिड़ गए दादा-दादी, जानिया फिर क्या हुआ


तीन भाइयों के परिवार में चार बेटों की मौत

ग्रामीण मोहन गिरवाल ने बताया कि हादसे में तीन भाइयों के परिवार में चार बेटों की मौत हो गई। दीपक (21) और सुनील डावर (22) आपस में सगे भाई और गणेश डावर (20) और नारायण डावर (25) चचेरे भाईयों की मौत से हर कोई सहम गया। इनके साथ लक्ष्मण डावर (20) निवासी मोयदा, महेश कटारे (31) बबलाई , जितेंद्र मकवाने (19) मक्सी और देवराम ओसरे (21) काचीकुआं दुर्घटना के शिकार हुए हैं।

नदी में आई बाढ़ में बह गई कार - देखें Video

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

Uttarakhand Election 2022: रुद्रप्रयाग में अमित शाह ने पूछा, कैसी सरकार चाहिए, विकास या भ्रष्टाचार वाली?शिवराज सरकार के मंत्री ने राष्ट्रपिता को बताया फर्जी पिता, तीन पूर्व पीएम पर भी साधा निशानाNeoCov: नियोकोव वायरस के लक्षण, ठीक होने की दर, जानिए सबकुछNeoCov: नियोकोव वायरस के लक्षण, ठीक होने की दर, जानिए सबकुछएनसीसी रैली में बोले पीएम मोदी- महिलाओं को सेना में मिल रही बड़ी जिम्मेदारियांUP Assembly elections 2022: पहले आप-पहले आप में फंसी बनारस-गोरखपुर की सीट, कांग्रेस, सपा को बीजेपी के पत्ते खोलने का इंतजारUP Assembly Elections 2022 : फिर दो जन्मतिथि को लेकर विवादों में घिरे अब्दुल्ला आजम, तो क्या नहीं लड़ सकेंगे चुनावUttarakhand Election 2022: रुद्रप्रयाग में अमित शाह ने पूछा, कैसी सरकार चाहिए, विकास या भ्रष्टाचार वाली?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.