अब ममता दीदी की पारी समाप्त, वापसी का चांस नहीं: पीएम मोदी

कहा, जनता के नकारने से बढ़ती जा रही ममता की कड़वाहट और गुस्सा

 

By: MOHIT SHARMA

Published: 13 Apr 2021, 12:30 AM IST

कोलकाता. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर तीखा प्रहार करते हुए जनता के नकारने से उनकी कड़वाहट और गुस्सा बढऩे का आरोप लगाया। साथ ही उनकी पारी समाप्त होने और कांग्रेस की तरह पश्चिम बंगाल की सत्ता से हमेशा के लिए उनकी बिदाई होने का दावा किया।
बर्दवान में आयोजित रैली में आए लोगों से पीएम मोदी ने कहा कि बर्दवान का चावल और मेहीदाना (मिठाई) बहुत प्रसिद्ध है। यहां के लोगों की बोली, व्यवहार और खान-पान में भरपूर मिठास है। क्या ममता दीदी को बर्दवान का मेहिदाना पसंद नहीं है क्या। वे हैरान हैं कि दीदी इतनी कड़वाहट कहां से ला रही हैं। उन्होंने लोगों को उनका गुस्सा बढऩे का कारण बताया।
मोदी ने कहा कि जनता ने आधे चुनाव में ही तृणमूल कांग्रेस को साफ कर दिया है। चार चरण के चुनाव में ही बंगाल की जागरूक जनता ने इतने चौके और छक्के मारे कि भाजपा की सीटों की सेंचुरी हो गई है। जो आपके साथ खेला करने की सोच रहे थे, उनका के साथ खेला हो गया है। इसीलिए दीदी गुस्सा हो रही हैं। बंगाल की जनता ने उन्हें नंदीग्राम में क्लीन बोल्ड कर दिया। बंगाल में दीदी की पारी समाप्त हो चुकी है।

धरा रह गया खेल
मोदी ने कहा कि राज्य की जनता ने दीदी की योजना को फेल कर दिया। बंगाल के लोग समझदार व दूरदर्शी हैं। दीदी ने अपनी पार्टी की कप्तानी अपने भाईपो (भतीजे) को देने की पूरी तैयारी कर ली थी। लेकिन जनता ने दीदी के इस खेल को समय रहते समझ लिया ़इसलिए उनका सारा खेला धरा का धरा रह गया। साथ ही जनता ने दीदी के सारी टीम को मैदान से बाहर जाने को कह दिया है।

कांग्रेस की तरह होगा हाल
प्रधानमंत्री ने कहा कि ममता दीदी को मालूम है कि बंगाल से एक बार कांग्रेस गई तो फिर कभी वापस नहीं आई। कम्युनिस्ट भी गए तो वापस नहीं आए। अब दीदी इस बार गईं तो फिर कभी वापसी नहीं होगी।

बर्दवान तरसा विकास को
बर्दवान में प्रचार करने आए मोदी ने कहा कि धान का कटोरा कहे जाने वाले इस बर्दवान के लोग विकास के लिए तरस गए। सिंचाई, स्टोरेज की सुविधा नहीं है, न ही फसल की उचित कीमत मिल रही है।
सिर्फ दीदी का सिंडिकेट खेते के फसलों से कमा रहा है।

सिंडीकेट, कटमनी पर बरसे
प्रधानमंत्री ने कहा कि दीदी और उनके करीबियों ने गरीब तक पहुंचने वाला हर लाभ लूट लिया। तृणमूल सरकार ने प्रशासन का इस्तेमान विकास में रोड़ा अटकाने, पुलिस के राजनीतिक इस्तेमाल करने में, तोलाबाजों, सिंडिकेट सेवा में लगाया है। घर बनवाने से लेकर जन्मदिन मनाने तक कटमनी की परंपरा शुरू की। भाजपा की सरकार बनने पर बंगाल इससे मुक्त होगा। सरकार से मिलने वाले अनुदान के सारे पैसा सीधे लोगों के खाते में पहुंचेंगे। विकास कार्यों में तेजी आएगी।

नदिया में मतुआ सम्प्रदाय को साधा
वहीं नदिया क्षेत्र के मतुआ सम्प्रदाय के मतदाताओं को साधने की कोशिश करते हुए कहा कि मोदी ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस सरकार ने दलित वर्ग के लोगों के लिए कुछ नहीं किया। मतुआ समप्रदाय के लोगों के लिए हर सुविधा सुनिश्चित की जाएगी, क्योंकि उन्हें न्याय दिलाना भाजपा की भावनात्मक प्रतिबद्धता रही है।

भ्रष्टाचार और हिंसा का सहारा
मोदी ने मुख्यमंत्री पर आरोप लगाया कि उन्होंने अपने राजनीतिक हितों और अपने लोगों को फायदा पहुंचाने के लिए भ्रष्टाचार और हिंसा का सहारा लिया। प्रधानमंत्री ने अपने बांग्लादेश के दौरे का उल्लेख करते हुए कहा कि इस दौरान उन्हें मतुआ संप्रदाय के गुरु हरिचंद ठाकुर की जन्मस्थली जाने का मौका मिला लेकिन यहां की मुख्यमंत्री को यह भी पसंद नहीं आया।

दलितों-पीडि़तों को दिलाएंगे न्याय
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दीदी ने 10 साल के शासन में बंगाल के दलितों-पीडि़तों-शोषितों-वंचितों से कैसे नफरत दिखाई है, यह देश अब देख रहा है। उन्होंने मतुआ और नमोशूद्र समाज के लिए कुछ नहीं किया। वे सभी को आश्वस्त करने आए हैं कि भारत मां में आस्था रखने वाले सभी शरणार्थी साथियों को हर सुविधा सुनिश्चित की जाएगी। भाजपा के लिए ऐसे तबकों को न्याय दिलाना भावनात्मक प्रतिबद्धता भी है।

BJP PM Narendra Modi
MOHIT SHARMA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned