scriptसंदेशखाली कांड का मास्टरमाइंड शेख शाहजहां शिकंजे में | Sandeshkhali scandal mastermind Sheikh Shahjahan in custody | Patrika News

संदेशखाली कांड का मास्टरमाइंड शेख शाहजहां शिकंजे में

locationकोलकाताPublished: Feb 29, 2024 04:51:45 pm

Submitted by:

Rabindra Rai

पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखाली में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल के जवानों पर हमले के 55 दिन बाद लुकाछिपी का खेल खत्म हो गया। पुलिस ने घटना के मास्टरमाइंड तृणमूल कांग्रेस के स्थानीय नेता शेख शाहजहां को दबोच लिया

संदेशखाली कांड का मास्टरमाइंड शेख शाहजहां शिकंजे में

संदेशखाली कांड का मास्टरमाइंड शेख शाहजहां शिकंजे में

ईडी टीम पर हमले के 55 दिन बाद खत्म हुआ लुकाछिपी का खेल
पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखाली में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल के जवानों पर हमले के 55 दिन बाद लुकाछिपी का खेल खत्म हो गया। पुलिस ने घटना के मास्टरमाइंड तृणमूल कांग्रेस के स्थानीय नेता शेख शाहजहां को दबोच लिया। मिनाखां के एसडीपीओ अमीनुल इस्लाम खान ने बताया कि फरार तृणमूल नेता को गुरुवार तडक़े संदेशखाली से लगभग 30 किमी दूर मिनाखां के बामनपुकुर इलाके के एक घर से गिरफ्तार किया गया। शाहजहां मछली फार्म के बीच गेस्ट हाउस में कुछ साथियों के साथ छुपा था। शाहजहां को सुबह करीब 10.40 बजे बशीरहाट की अदालत में पेश किया गया। राज्य पुलिस ने 14 दिन की हिरासत मांगी, लेकिन अदालत ने 10 दिन की हिरासत दी। शाहजहां पर संदेशखाली में कथित यौन अत्याचार और जमीन पर कब्जा करने का भी आरोप है। हमले के बाद से ही ईडी पूछताछ के लिए शेख को समन जारी कर रही है, लेकिन वह हाजिर नहीं हो रहा था।

सीआइडी ने दर्ज मामलों की जांच का जिम्मा संभाला
इस बीच पश्चिम बंगाल अपराध अन्वेषण विभाग (सीआईडी) ने शाहजहां शेख के खिलाफ दर्ज मामलों की जांच का जिम्मा संभाल लिया। अधिकारी ने कहा कि हम शेख के खिलाफ दर्ज मामलों की जांच करेंगे। उसे पूछताछ के लिए भवानी भवन (बंगाल पुलिस मुख्यालय) लाया गया। पुलिस अधिकारी ने बताया कि पांच जनवरी को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारियों पर हमले से जुड़े दो मामलों में उसे गिरफ्तार किया गया। शेख पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है, जिसमें 147 (दंगा) और 307 (हत्या का प्रयास) शामिल है।

हाईकोर्ट के आदेश के 24 घंटे में ही शिकंजे में
कलकत्ता हाईकोर्ट के यह कहने के 24 घंटे के भीतर शाहजहां को गिरफ्तार कर लिया गया कि सीबीआइ, ईडी या पश्चिम बंगाल पुलिस भी गिरफ्तार कर सकती है। राज्यपाल सीवी आनंद बोस ने सोमवार रात शेख की गिरफ्तारी के लिए राज्य सरकार को 72 घंटे की समय सीमा दी थी। उन्होंने कहा था कि सुरंग के अंत में हमेशा रोशनी होती है। मैं इसका स्वागत करता हूं। वहीं, सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने कहा कि गिरफ्तारी संभव थी क्योंकि अदालत ने फैसला साफ कर दिया है, जबकि भाजपा ने इसे स्क्रिप्टेड करार दिया।

एक महीने से संदेशखाली में उबाल
महिलाओं के खिलाफ यौन उत्पीडऩ और हिंसा के आरोपों को लेकर पिछले एक महीने से संदेशखाली में उबाल है। महिलाएं सडक़ों पर इंसाफ के लिए प्रदर्शन कर रही हैं। शाहजहां के फरार रहने को लेकर राज्य प्रशासन काफी समय से दबाव में था। संदेशखाली में स्थानीय लोगों द्वारा उसे उत्तर 24 परगना जिले और उसके आसपास देखे जाने का दावा किया गया था। राज्य की पुलिस पर उसे संरक्षण देने का आरोप भी लगाया गया था।
loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो