script WEST BENGAL SHYAM UTSAV 2023---श्याममय हुआ महानगर | WEST BENGAL NEWS | Patrika News

WEST BENGAL SHYAM UTSAV 2023---श्याममय हुआ महानगर

locationकोलकाताPublished: Nov 24, 2023 05:21:39 pm

Submitted by:

Shishir Sharan Rahi

कोलकाता महानगर समेत पूरा प्रदेश गुरुवार को श्याममय हो गया।ा श्याम मंदिरों में दर्शन के लिए दिनभर श्याम भक्तों का तांता लगा रहने से मेला जैसा माहौल रहा

WEST BENGAL SHYAM UTSAV 2023---श्याममय हुआ महानगर
WEST BENGAL SHYAM UTSAV 2023---श्याममय हुआ महानगर
कोलकाता महानगर समेत पूरा प्रदेश गुरुवार को श्याममय हो गया। विभिन्न श्याम मंदिरों में दर्शन के लिए दिनभर श्याम भक्तों का तांता लगा रहने से मेला जैसा माहौल रहा।

--श्याम मंदिर घुसुड़ीधाम में श्याम जयंती मेला का शुभारंभ
उत्तर हावड़ा के विधायक गौतम चौधरी ने गुरुवार को श्याम जयंती मेला का उदघाटन करते हुए श्याम मंदिर घुसुड़ीधाम के प्रवेश द्वार पर तोरण द्वार बनाने की घोषणा की। साथ ही उन्होंने सडक़ का नाम श्याम मंदिर घुसुड़ीधाम के नाम पर कराने की घोषणा करते हुए कहा कि सलकिया हेरिटेज में भी घुसुड़ीधाम के बाबा श्याम का मंदिर शुमार होगा। इससे पहले श्याम मंदिर घुसुड़ीधाम गुरुवार को अद्भुत स्वरूप में नजर आया। मंदिर में इस बार बाबा श्याम की झांकी को संजय केजरीवाल के निर्देशन में विविध प्रकार के सूखे मेवों से आकर्षक तरीके से सजाया गया।
-----

भक्तों का लगा तांता

श्याम जयंती मेला पर गुुरुवार को मंदिर के पट खुलने के साथ ही अपने आराध्य को रिझाने-मनाने भक्तों का तांता लग गया। सुबह से ही श्रद्वालु फूल-माला-प्रसाद लिए बाबा श्याम के इस दरबार में पहुंचने लगे। काफी संख्या में श्रद्धालु रंग-बिरंगी ध्वजाएं (निशान) लेकर बाबा श्याम के दरबार में पहुंचे और बाबा श्याम को ध्वजाएं अर्पित की। मंदिर के प्रमुख भजन प्रवाहक व संचालक मनोज अग्रवाल (बालासिया) ने भजनों की अमृतवर्षा में श्याम भक्तों को श्याम नाम की सरिता में गोते लगवाए। मेला का उद्घाटन करने पहुंचे विधायक गौतम चौधरी ने दीप प्रज्वलन कर 51 किलो मिल्क केक का महाभोग अर्पित किया। इस अवसर पर वासुदेव प्रसाद याचिका, विजय गुजरवासिया, अशोक अग्रवाल, सुधांशु शेखर, उत्तम अग्रवाल आदि उपस्थित थे।
-----

सवामणी प्रसाद, छप्पन भोग

जन्मदिन के बधाई गीतों के साथ बाबा श्याम के जन्मोत्सव की खुशी में श्रद्धालु झूम उठे। संचालन मनोज अग्रवाल और सुरेश कुमार भुवालका ने किया। मंदिर के प्रबंध न्यासी विनोद टिबड़ेवाल ने बताया कि मंदिर के बाहर फूल-मालाओं से लेकर सवामणी प्रसाद, छप्पन भोग आदि की व्यवस्था की गई। कार्तिक शुक्ल द्वादशी 24 नवम्बर को श्रद्धालुओं के पूजन-अर्चन-दर्शन के आवश्यक प्रबंध किये गये हैं। आयोजन में नवल सुल्तानिया, किशन काशुका, सुरेंद्र अग्रवाल, वरुण अग्रवाल, पवन गर्ग, कपिल अग्रवाल, सांवरमल अग्रवाल, संतोष अग्रवाल, संजय टिबड़ेवाल सहित घुसुड़ीधाम परिवार के सभी सदस्य जुटे हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो