मदनपुर कोल ब्लॉक : विरोध के बीच गिनती किए गए 71 हजार पेड़

Coal Block: डबललेन सड़क के लिए दो साल पूर्व ही 25 हजार पेड़ों की हो चुकी है कटाई

By: Vasudev Yadav

Published: 18 Feb 2020, 11:58 AM IST

कोरबा. मदनपुर साउथ कोल ब्लॉक के लिए ग्रामीणों के विरोध केे बीच वन विभाग ने अब तक ७१ हजार पेड़ों की गिनती पूरी कर ली है। बीते एक साल से विभाग गिनती कर रहा है, लेकिन विरोध की वजह से विभाग को कई बार काम रोकना पड़ा। मोरगा व मदनपुर में प्रस्तावित मदनपुर साउथ कोल ब्लॉक के लिए पिछले दो साल से प्रक्रिया चल रही है। जब तक पेड़ों की गिनती पूरी नहीं हो जाती तब तक आगे की प्रक्रिया नहीं बढ़ेगी।

पेड़ों की संख्या के आधार पर आगे क्लीयरेंस मिलना है। इसके बाद कटाई की अनुमति मिलेगी, तब जाकर काम शुरु हो सकेगा। नंवबर 2018 से पेड़ों की गिनती करवाने के लिए वन विभाग ने अब तक 15 से ज्यादा बार कोशिश कर चुका है। जैसे ही ग्रामीणों को सूचना मिलती है काम बंद करवा दिया जाता है। फिर भी अमला जंगल क्षेत्र में गिनती तेजी से कर रहा है। अब तक 71 हजार से ज्यादा पेड़ों की गिनती का काम पूरा हो चुका है।

Read More: भैंसमा मार्ग पर खड़ी ट्रक से तेज रफ्तार बाइक टकराई, दो की मौत, दो घायल

आक्रोशित लोगों ने प्रशासन को ज्ञापन सौंपकर मांग की थी कि जब उनके द्वारा ग्रामसभा कर प्रस्ताव पास कर दिया गया है कि उन्हें किसी भी तरह से कोल ब्लॉक के लिए पेड़ों की गिनती नहीं होने देेंगे। उद्योगों के आने से उनका जल-जंगल-जमीन छीन जाएगा। इसके बाद भी अधिकारी बार-बार गिनती के लिए दबाव क्यों बना रहे हैं। पिछले रविवार को एसडीएम व तहसीलदार समेत अन्य अधिकारियों ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि जमीन लेने और पेड़ों की कटाई होने से पहले विधिवत ग्राम सभा होगी, तब जाकर ग्रामीण शांत हुए।

Read More: पट्टा टूटते ही अनियंत्रित हुई बस सड़क से नीचे उतर कर पलटी, दस यात्री घायल, चालक फरार

डबललेन सड़क के लिए पहले ही 25 हजार पेड़ों की हो चुकी है कटाई
डबललेन सड़क के लिए दो साल पूर्व ही 25 हजार पेड़ों की कटाई हो चुकी है। हर एक पेड़ के पीछे पौधे लगाने के लिए निर्देश दिए गए थे, लेकिन अब तक जगह नहीं मिलने की वजह से काम नहीं हो सका है। अब इसी क्षेत्र में कोल ब्लॉक के लिए हजारों पेड़ों पर खतरा मंडाराने लगा है।

-पेड़ों की गिनती जारी है। अब तक 70 हजार से अधिक पेड़ों की गिनती हो चुकी है। ग्रामीणों ने विरोध दर्ज कराया था। एसडीएम सहित अन्य अधिकारियों ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया है कि विधिवत ग्राम सभा के बगैर किसी तरह की पेड़ कटाई नहीं होगी। अश्वनी चौबे, रेंजर, केंदई परिक्षेत्र

Vasudev Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned