पासबुक व एटीएम कार्ड मिला, साप्ताहिक अवकाश पर भी बनी सहमति, मजदूर लौटे काम पर

पासबुक व एटीएम कार्ड मिला, साप्ताहिक अवकाश पर भी बनी सहमति, मजदूर लौटे काम पर

JYANT KUMAR SINGH | Publish: Oct, 14 2018 10:58:33 AM (IST) | Updated: Oct, 14 2018 10:58:34 AM (IST) Korba, Chhattisgarh, India

- मानिकपुर खदान में मिट्टी व कोयला उत्खनन चालू

कोरबा. एसईसीएल की मानिकपुर खदान में ठेका मजदूरों की दो दिन से चल रही हड़ताल शनिवार को खत्म हो गई। मजदूर काम पर लौट गए हैं। उनका कहना है कि ठेका कंपनी ने बंधक के तौर पर रखी पासबुक व एटीएम कार्ड को लौटा दिया है। साथ ही साप्ताहिक अवकाश पर भी सहमति बन गई है।

कोल इंडिया द्वारा निर्धारित न्यूनतम मजदूरी सहित कई मांगों को लेकर ठेका मजदूर गुरुवार से काम बंद हड़ताल पर थे। ठेका मजदूरों ने कंपनी पर शोषण का आरोप लगाते हुए कहा था कि उनकी एटीएम और पासबुक को बंधक बना लिया है। उनकी कमाई का एक हिस्सा ठेका कंपनी बैंक से निकाल लेती है। १० से १२ हजार रुपए ही भुगतान किया जाता है। ठेका मजदूरों ने सुबह और शाम की शिफ्ट में ३० मिनट की लंच ब्र्रेक मांगी थी। मजदूरों की समस्या पर चर्चा के लिए शुक्रवार को कोरबा एरिया के जीएम जयप्रकाश द्विवेदी की उपस्थिति में एक बैठक हुई थी। इसमें जीएम ने नियमानुसार कार्रवाई का भरोसा दिया था। ठेका मजदूरों ने एटीएम और पासबुक मिले बिना काम पर लौटने से मना कर दिया था।

Read More : Breaking : आधी रात नींद में थीं छात्रावास की बालिकाएं ऐसा क्या हुआ कि मच गई अफरा तफरी

मानिकपुर पुलिस चौकी में भी शिकायत दर्ज कराई थी। पुलिस ने ठेका कंपनी के अधिकारी को पकड़ लिया था। उसने मजदूरों की एटीएम और लौटाने का आश्वासन पुलिस को दिया। पुलिस की दबाव में आकर ठेका कंपनी ने कार्ड और पासबुक लौटा दिया। इसके बाद हड़ताल खत्म हो गई। शनिवार सुबह पहली पाली से मानिकपुर खदान में मिट्टी उत्खनन चालू हुआ। जबकि कोयले का उत्खनन शुक्रवार की रात नौ बजे चालू हुआ था। मजदूरों के काम पर लौटने से ठेका कंपनी और एसईसीएल प्रबंधन ने राहत की सांस ली है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned