टिड्डी दल के खात्मे के लिए चारों जिलों में दवाइयां भेजी

कोटा जिला प्रशासन की ओर से टिड्डी दल के हमले के अलर्ट के चलते रविवार को हाड़ौती के चारों जिलों में कृषि विभाग के तमाम अधिकारी दिनभर मुस्तैद रहे, लेकिन शाम को खबर आई कि किसी भी जगह टिड्डी दल नहीं आया है।

By: Haboo Lal Sharma

Published: 24 May 2020, 09:30 PM IST

कोटा. जिला प्रशासन की ओर से टिड्डी दल के हमले के अलर्ट के चलते रविवार को हाड़ौती के चारों जिलों में कृषि विभाग के तमाम अधिकारी दिनभर मुस्तैद रहे, लेकिन शाम को खबर आई कि किसी भी जगह टिड्डी दल नहीं आया है। टिड्डी दल के नहीं आने का कारण हवा का विपरीत रुख को माना जा रहा है।

Read More: वृद्धा की संदिग्ध अवस्था में मौत, छोटे बेटे ने हत्या का लगाया आरोप

कृषि विभाग कोटा खण्ड के संयुक्त निदेशक रामावतार शर्मा ने बताया कि टिड्डी दल के नियंत्रण के लिए तमाम आवश्यक व जरूरी कदम उठाए जा चुके हैं। कोटा, बूंदी, बारां तथा झालावाड़ जिले में सभी जगहों पर दवाइयां भेजी जा चुकी हंै। जहां भी टिड्डी दल का हमला हो, वहां तत्काल दवाइयां का स्प्रे शुरू किया जा सके, इसके लिए संसाधन भी उपलब्ध करवा दिया है। टिड्डी दल चित्तौडगढ़ और भीलवाड़ा क्षेत्र में डेरा डाले हुए हैं। अधिकारियों का कहना है कि इस कारण हमले की आशंका बनी हुई है। झालावाड़ और बूंदी जिले में एक बार टिड्डी दल आ चुका है। यह दल जिस रूट से कूच करता है, वहां गंध छोड़ जाता है, इस कारण उस क्षेत्र में दुबारा आने की ज्यादा संभावनाएं रहती है। कृषि पर्यवेक्षकों को वाट्सएेप ग्रुप बनाकर ग्रामीणों को जोडऩे को कहा गया है, ताकि अंतिम छोर से भी तत्काल सूचना मिल सके।

Haboo Lal Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned