script JEE-Main-2024 : एनटीए ने जारी किए प्रश्नपत्र, आंसर-की और रिकॉर्डेड रेस्पोंस | JEE-Main-2024 : NTA released answer key and recorded responses | Patrika News

JEE-Main-2024 : एनटीए ने जारी किए प्रश्नपत्र, आंसर-की और रिकॉर्डेड रेस्पोंस

locationकोटाPublished: Feb 07, 2024 12:53:50 am

Submitted by:

Deepak Sharma

जेईई-मेन के पहले अटेम्प्ट के प्रश्नपत्र, प्रोविजनल आंसर की और रिकॉर्डेड रेस्पोंस जारी कर दिए गए हैं। सेशन-1 जनवरी अटेम्प्ट की बीई-बीटेक परीक्षा 27 जनवरी से 1 फरवरी के मध्य प्रत्येक दिन दो शिफ्टों में हुई थी, जिसमें 12.21 लाख से ज्यादा विद्यार्थी पंजीकृत थे। एनटीए द्वारा पारदर्शिता दिखाते हुए विद्यार्थियों के प्रश्नपत्र व रिकॉर्डेड रेस्पोंस के साथ प्रोविजनल आंसर की भी जारी कर दी गई है।

jee_main_2024.jpg

देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई-मेन के पहले अटेम्प्ट के प्रश्नपत्र, प्रोविजनल आंसर की और रिकॉर्डेड रेस्पोंस जारी कर दिए गए हैं। सेशन-1 जनवरी अटेम्प्ट की बीई-बीटेक परीक्षा 27 जनवरी से 1 फरवरी के मध्य प्रत्येक दिन दो शिफ्टों में संपन्न हुई थी, जिसमें 12 लाख 21 हजार से ज्यादा विद्यार्थी पंजीकृत थे। जेईई-मेन एग्जाम पूर्णत: कम्प्यूटर बेस्ड होने के कारण एनटीए द्वारा पारदर्शिता दिखाते हुए विद्यार्थियों के प्रश्नपत्र व रिकॉर्डेड रेस्पोंस के साथ जेईई मेन जून के सभी प्रश्नपत्रों की प्रोविजनल आंसर की भी जारी कर दी गई है।

कॅरियर काउंसलिंग एक्सपर्ट अमित आहूजा ने बताया कि विद्यार्थियों को आंसर की को चैलेंज करने का मौका भी दिया गया है। इस संदर्भ में एनटीए की ओर से जारी नोटिस के अनुसार विद्यार्थी 8 फ़रवरी को शाम 11 बजे तक आंसर की को चैलेन्ज कर सकता है और प्रश्नपत्र एवं रिकॉर्डेड रिस्पांस डाउनलोड कर सकता है। विद्यार्थी जेईई मेन वेबसाइट पर दिए विकल्प पर जाकर अपने रजिस्ट्रेशन नंबर, पासवर्ड अथवा जन्म दिनांक भरकर अपना प्रश्नपत्र एवं रिकॉर्डेड रिस्पांस डाउनलोड कर सकते हैं। दिए गए प्रश्नपत्र एवं रिकॉर्डेड रेस्पोंस में विद्यार्थियों द्वारा दिए गए प्रश्न के उत्तर तथा उत्तरों का स्टेटस को भी जारी किया गया है, अर्थात यह स्पष्ट कर दिया गया है कि विद्यार्थी ने उस संबंधित प्रश्न का क्या उत्तर दिया है या नहीं दिया है, या मार्क ऑफ रिव्यू में रखा है या मॉर्क ऑफ रिव्यू में रखकर उत्तर दिया है। डाउनलोड किए गए प्रश्नपत्र पर विद्यार्थी का नाम, एप्लीकेशन नंबर एवं रोल नंबर अंकित है, साथ ही विद्यार्थी के प्रश्न पत्र में प्रत्येक प्रश्न उसकी क्वेश्चन आईडी एवं उसके आंसर को ऑप्शन आईडी के साथ दशार्या गया है।

आंसर की चैलेंज करने का प्रक्रिया

एक्सपर्ट आहूजा ने बताया कि विद्यार्थियों के सामने उनके पूरे 75 प्रश्न अलग-अलग क्वेश्चन आईडी के रुप में प्रदर्शित है एवं उस क्वेश्चन का सही आंसर भी करेक्ट ऑप्शन आईडी के रुप में मिलेगा। विद्यार्थी इस क्वेश्चन आईडी और ऑप्शन आईडी को डाउनलोड किए गए प्रश्नपत्र से मिलाकर अपने द्वारा दिए गए उत्तरों की जांच कर सकता है। संशय की स्थिति में उसके सामने दिए गए चारों उत्तरों के ऑप्शन आईडी के विकल्पों में सही विकल्प को चुनकर चैलेंज कर सकता है। प्रत्येक चैलेन्ज किए गए क्वेश्चन के लिए विद्यार्थी को दो सौ रुपए का शुल्क प्रोसेसिंग फीस के रुप में देना होगा। जोकि डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड व नेट बैंकिंग के माध्यम से देय होगा। यह प्रोसेसिंग फीस नॉन रिफंडेबल है। विद्यार्थी एक या एक से अधिक प्रश्नों को भी चैलेंज कर सकता है। इसके साथ ही चैलेंज किए गए प्रश्नों के लिए संबंधित दस्तावेज को स्कैन कर अपलोड भी कर सकता है। इस प्रक्रिया के उपरांत विद्यार्थी को प्रोसेसिंग शुल्क का भुगतान करना होगा। जेईई-मेन जावरी सेशन का परिणाम 12 फ़रवरी को जारी किया जाएगा।

ट्रेंडिंग वीडियो