लोकसभा अध्यक्ष बोले किसानों के लिए नहरों में तत्काल पानी छोड़ो

सोयाबीन की फसल बचाने के लिए चम्बल की नहरों में पानी छोडने की उठी मांग

By: Ranjeet singh solanki

Published: 16 Sep 2020, 02:01 AM IST

कोटा. सोयाबीन की फ सल के लिए पानी की आवश्यकता तथा किसानों की परेशानी को देखते हुए लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के निर्देश पर उनके ओएसडी राजीव दत्ता ने मंगलवार को संभागीय आयुक्त केसी मीना से बात कर नहरों में पानी छोडऩे की बात कही।कोटा व बूंदी जिले में किसानों ने सोयाबीन की फ सल की है। बरसात की कमी के कारण सोयाबीन की फसल को एक और बार पानी की आवश्यकता है, लेकिन पिछले कुछ दिनों से मौसम में आए बदलाव के कारण तापमान बढऩे तथा पानी की कमी के चलते सोयाबीन की फसल के खराब होने की आशंका उत्पन्न हो गई है। इसको देखते हुए किसान नहरों में पानी छोडऩे की मांग कर रहे हैं। लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि किसानों को सिंचाई के लिए के लिए पानी की सख्त जरूरत है। इसलिए तत्काल आंकलन करें। इसकी जानकारी मिलने पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने ओएसडी राजीव दत्ता को मामले को देखने के निर्देश दिए। दत्ता ने संभागीय आयुक्त केसी मीना से फ ोन पर बात कर पूरी स्थिति से अवगत कराया। उन्होंने संभागीय आयुक्त को बताया कि लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के निर्देश हैं कि किसानों को राहत देने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जाएं। ऐसे में वे स्थिति की समीक्षा कर उचित कार्यवाही करें।

BJP
Show More
Ranjeet singh solanki
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned