मासूम की रक्त वाहिनी में फं सा त्रिशूल, डेढ़ घंटे चला ऑपरेशन

बालक अब पूरी तरह स्वस्थ है। एक माह बाद फि जियोथैरेपी करवाई जाएगी।

 

 

By: KR Mundiyar

Published: 24 Jun 2020, 11:18 PM IST

कोटा. एमबीएस अस्पताल में बारां जिले के किशनगंज निवासी सात साल के बालक का मंगलवार देर रात डेढ़ घंटे तक ऑपरेशन चला। उसकी रक्त वाहिनी में त्रिशूल फंसा हुआ था। डॉ. नवनीत शर्मा ने बताया कि बालक का ऑपरेशन रात 10 बजे शुरू किया, करीब डेढ़ घंटे चले ऑपरेशन के बाद बालक के दाएं हाथ से त्रिशूल को निकाला गया। त्रिशूल दाएं हाथ में छोटी रक्त वाहनी में घुसा हुआ था।

राजस्थान में मानूसन की धमाकेदार एंट्री, कोटा सहित 14 जिलों में झमाझम

ऑपरेशन के दौरान पहले नसों को कंट्रोल किया गया। उसके बाद त्रिशूल को निकाला गया। बालक को उसकी बहन ने एक यूनिट रक्त दिया। बालक के हाथ को अस्थिरोग विभाग के चिकित्सक को भी दिखवाया। त्रिशूल से उसकी हड्डी पर किसी तरह का कोई असर नहीं पड़ा। बालक अब पूरी तरह स्वस्थ है। एक माह बाद फि जियोथैरेपी करवाई जाएगी।

निगम चुनाव से पहले बिछा दी जाजम, उत्तर को कर दिया भारी

KR Mundiyar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned