अपने सुझाव से Narayan Murthy को झेलनी पड़ रही है Social Media पर ट्रोलर्स की नाराजगी

  • हफ्ते में 60 दिन काम करने के सुझाव पर मूर्ति की हो रही है आलोचना
  • कुछ लोग कर रहे हैं 60 दिन काम करने वाले सुझाव का सपोर्ट

By: Saurabh Sharma

Updated: 02 May 2020, 04:43 PM IST

नई दिल्ली। देश की नामी आईटी कंपनियों में से एक इंफोसिस ( Infosys ) के को फाउंडर नारायण मूर्ति ( Narayan Murthy ) को अपने हफ्ते में 60 दिन वाले सुझाव पर वहावाही से ज्यादा आलोचना झेलनी पड़ रही है। सोशल मीडिया ट्रोलर्स नारायण मूर्ति को अपनी भाषा में क्रिटिसाइज करने के अलावा नसीहत भी दे रहे हैं। आपको बता दें कि इंफोसिस के को-फाउंडर नारायण मूर्ति एक कार्यक्रम में कहा कि अब दो से तीन सालों तक देश के वर्क फोर्स को हफ्ते में 60 घंटे तक काम ( Work 60 hrs a week ) करने की जरुरत है। जिसके बाद से सोशल मीडिया पर रिएक्शन आने शुरू हो गए हैं। दूसरे चरण का लॉकडाउन 3 मई को खत्म होने वाला था, जिसे अब 17 मई तक बढ़ा दिया गया है।

यह भी पढ़ेंः- Elon Musk के एक Tweet से Tesla के एक लाख करोड़ रुपए साफ

नारायण मूर्ति ने दिया था यह बयान
नारायण मूर्ति के अनुसार देश ज्यादा दिनों तक लॉकडाउन में नहीं रह सकता है। वहीं उन्होंने यह भी कि आने वाले दिनों में देश में कोरोना वायरस से ज्यादा लोग भूख से मरेंगे। मूर्ति के मुताबिक देश में हर साल मररने वालों की संख्या करीब 90 लाख है। ऐसे अगर कोविड से मरने वाले लोगों की तुलना करें तो ज्यादा घबराने की जरुरत महसूस नहीं होती हैै। उनके अनुसार लॉकडाउन जितना लंबा जाएगा, उतने ज्यादा लोग देश में बेरोजगार होंगे। वहीं उन्होंने सभी अपने वर्कप्लेस में शिफ्ट लगाने की सलाह भी ताकि सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों क सही मायनों में पालन हो सके।

यह भी पढ़ेंः- RBI ने CKP Co-operative Bank को दिया झटका, मुसीबत में सवा लाख अकाउंट होल्डर्स

बयान के बाद रिएक्शन
- सोशल मीडिया के यूजर ने समर्थन में लिखा है कि 'आपको हमेशा मेरी ओर से सम्मान। सर नारायण मूर्ति',।
- दूसरे यूजर ने मूर्ति के सुझाव का समर्थन करते हुए लिखा कि 'नारायण मूर्ति का बहुत बढिय़ा सुझाव'।
- ट्विटर पर मूर्ति की आलोचना करते हुए लिखा कि 'मुझे लगता है कि वे जमीनी हकीकत से परिचित नहीं हैं या फिर उसकी अनदेखी कर रहे हैं। देश के 70 फीसदी से ज्यादा लोग असंगठित क्षेत्र में काम कर रहे हैं और वे 60 घंटे से ज्यादा काम करते हैं, बिना पीएफ और सोशल सिक्युरिटी के।'
- दूसरे यूजर ने विरोध में लिखा कि 'Infosys में लोग पहले से ही 72-80 घंटे काम कर रहे हैं...!!!#Infosys #narayanamurthy'

Show More
Saurabh Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned