दिलचस्प है खंडाला गर्ल रानी मुखर्जी का यूपी कनेक्शन 

फ़िल्मी दुनिया में अपनी अदाकारी से धूम मचाने वाली अभिनेत्री रानी मुखर्जी के बारे में बहुत कम लोग यह जानते होंगे कि उनके बचपन का काफी समय उत्तर प्रदेश के झाँसी में गुजरा है। 

लखनऊ. फ़िल्मी दुनिया में अपनी अदाकारी से धूम मचाने वाली अभिनेत्री रानी मुखर्जी के बारे में बहुत कम लोग यह जानते होंगे कि उनके बचपन का काफी समय उत्तर प्रदेश के झाँसी में गुजरा है। ऐतिहासिक रूप से पूरी दुनिया में रानी लक्ष्मी बाई के शौर्य के कारण प्रसिद्द झाँसी अपने साथ रानी मुखर्जी के परिवार से भी काफी गहरा रिश्ता रखता है। रानी मुखर्जी के पूर्वज कई पीढ़ी पहले झाँसी में आकर बस गए थे और उनके दादा से लेकर पिता तक सब फ़िल्मी जगत से जुड़े रहे और कई चर्चित फिल्मों का निर्माण इस परिवार ने किया। 

झाँसी में हुआ रानी मुखर्जी के पिता का जन्म 

रानी मुखर्जी के पिता राम मुखर्जी का जन्म झाँसी में हुआ। वे बाद में परिवार के साथ मुंबई बस गए लेकिन रानी मुखर्जी ने झाँसी से अपने रिश्ते हमेशा बनाये रखे। झाँसी के कालीबाड़ी में रहने वाले रानी मुखर्जी के दादा शशधर मुखर्जी अपने दूर के रिश्तेदार अशोक कुमार के कहने पर मुंबई गए। उन्होंने 1970 में देवानंद और माला सिन्हा को लेकर फिल्म फिल्म लव मैरिज बनाई। इस फिल्म का काफी हिस्सा झाँसी में शूट हुआ था और फिल्म काफी सफल मानी गई थी। 

रानी मुखर्जी के पिता पहुंच गए मुंबई 

लव मैरिज फिल्म के सफल होने के बाद शशधर ने कई फ़िल्में बनाई जो कामयाब रही लेकिन उनका झाँसी प्रेम नहीं छूटा और वे लौटकर झाँसी आ गए। कुछ समय बाद रानी मुखर्जी के पिता राम मुखर्जी परिवार के साथ मुंबई पहुंच गए और फिल्म निर्माण में हाथ आजमाने लगे। इस बीच उनका झाँसी का भव्य मकान पूरी तरह खाली पड़ा रहा। राम मुखर्जी ने यह भव्य मकान इस्कॉन मंदिर समिति को दे दिया जिसे बाद में विकसित कर शानदार मंदिर का रूप दिया गया। 

झाँसी की बांधव समिति की सदस्य हैं रानी 

झाँसी में रानी मुखर्जी के कई रिश्तेदार रहते हैं। फ़िल्मी कैरियर शुरू करने से पहले रानी मुखर्जी कई पारिवारिक कार्यक्रमों में झाँसी आती रही हैं। उनके कई रिश्तेदार झाँसी में रहते हैं। बंगाली समुदाय के क्लब बांधव समिति की रानी मुखर्जी सदस्य हैं। पिछले साल 2014 में बनी सस्पेंस थ्रिलर फिल्म मर्दानी के प्रमोशन के सिलसिले में वे झाँसी आई तो अपने पुराने घर के साथ ही रिश्तेदारों के यहाँ भी पहुंची। 

बॉलीवुड के शिखर तक का तय किया सफर 

रानी मुखर्जी ने फ़िल्मी दुनिया में अपनी अदाकारी से काफी धूम मचाई। रानी मुखर्जी ने अपने कैरियर की शुरुआत राजा की आएगी बरात से की जो असफल रही। इससे पहले उन्होंने अपने पिता की बंगाली फिल्म बियेर फूल में अभिनय किया जो 1992 में रिलीज हुई। कुछ समय के अंतराल पर गुलाम, कुछ कुछ होता है, चोरी चोरी चुपके चुपके, बादल, मुझसे दोस्ती करोगे, साथिया, हम तुम, वीरजारा, बंटी और बबली, ब्लैक सहित काफी संख्या में सफल फिल्मे आई और कई बार उन्हें फिल्म फेयर अवार्ड मिला। 
Show More
Laxmi Narayan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned