गठबंधन होते ही बसपा के 38 प्रत्याशियों की सूची वायरल, सियासी हलचल हुई तेज

बसपा प्रदेश अध्यक्ष ने बताया फर्जी, कहा-ऐसा मेरे द्वारा कोई पत्र जारी नहीं किया गया है।

 

By:

Published: 14 Jan 2019, 07:37 PM IST

लखनऊ. यूपी में लोकसभा चुनाव से पहले सपा-बसपा गठबंधन हो गया है। गठबंधन होने के बाद। प्रत्याशियों की सूची जारी होने की खबरें चर्चा में हैं। दोनों पार्टियों के बीच शनिवार को गठबंधन हुआ था। जिसमें तय हुआ था कि दोनों पार्टियां यूपी की 80 में से 38-38 सीटों पर चुनाव लडऩे का ऐलान किया था। उसमें अब बसपा कोटे के सभी 38 प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी गई है। यह सूची सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। वहीं बसपा ने इस सूची को फर्जी बताया है। बसपा के प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा ने कहा कि ऐसा कोई पत्र मेरे द्वारा जारी नहीं किया गया है।
इसी सूची के अनुसार संत कबीर नगर से डाक्टर अयूब खानं, महराजगंज से पूर्व विधानपरिषद सभापति गणेश शंकर पांडेय, कुशीनगर से रिजवान अंसारी, बांसगांव से सदल प्रसाद, आजमगढ़ से अकबर अहमद डंपी, घोषी से मुख्तार अंसारी, जौनपुर से सुभाष पांडेय, मछली शहर से केके गौतम, गाजीपुर से पूर्व सांसद और मऊ से बसपा विधायक मुख्तार अंसारी के भाई अफजाल अंसारी, चंदौली से कैलाशनाथ यादव, भदोही से चंद्रकुमार मिश्र उर्फ गुड्डू महराज, मिर्जापुर से समुद्र देवी, राबटर््गंज से जितेंद्र कुमार तिवारी को टिकट दिया गया है।

13 जनवरी 2019 को जारी दिखाया गया है

13 जनवरी 2019 को जारी की गई इस सूची पर हस्ताक्षर बसपा के प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाह के हैं। वहीं बसपा प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा ने कहा कि सोशल मीडिया पर मेरे फर्जी हस्ताक्षर से जारी एक पत्र प्रमुखता से प्रचारित किया जा रहा है जो 13 जनवरी 2019 को जारी दिखाया गया है और उसमें बहुजन समाज पार्टी द्वारा 38 लोकसभा सीटों को चिह्नित करते हुए उनके प्रत्याशियों के नाम भी घोषित कर दिए गए हैं। इस संबंध में मैं यह स्पष्ट कर रहा हूं कि ऐसा कोई भी पत्र मेरे द्वारा जारी नहीं किया गया है और मेरे नाम से फर्जी हस्ताक्षर बनाए गए हैं।

Bsp
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned