यूपी का पहला आयुष संस्थान सीआरआईयूएम लखनऊ जहां अब होगा कोविड का इलाज

UP First ayush institute CRIUM Lucknow COVID-19 treatment - लखनऊ सीआरआईयूएम में तैयारियां शुरू
- सिर्फ निर्देश और दवाइयों का इंतजार
- संस्थान मरीजों का इलाज शुरू कर देगा

By: Mahendra Pratap

Published: 09 May 2021, 10:46 AM IST

लखनऊ. UP First ayush institute CRIUM Lucknow COVID-19 treatment कोविड की लड़ाई में केंद्र सरकार ने यूपी को भी शामिल किया है। यूपी का पहला आयुष संस्थान जहां अब कोविड का इलाज होगा। आयुष मंत्रालय ने देशभर में चुने 15 संस्थानों की लिस्ट में लखनऊ के नेशनल रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑफ यूनानी मेडिसिन को भी शामिल किया है। केंद्रीय आयुष मंत्रालय के विशेष सचिव की ओर से चिट्ठी जारी की गई है। शनिवार को इस संबंध में ऑनलाइन बैठक भी हुई।

मुख्यमंत्री जी इन्हें क्या दीजियेगा? ऑक्सीजन या मुक़दमा, अजय कुमार लल्लू का सीएम योगी से सवाल

दवा ‘आयुष 64’ से होगा रोगियों का इलाज :- शनिवार को हुई बैठक में यह जानकारी दी गई कि संस्थान में खासतौर पर कोविड के लिए तैयार की गई दवा ‘आयुष 64’ से रोगियों का इलाज किया जाएगा। आयुष के अधीन आने वाले आयुर्वेदिक, होम्योपैथिक व अन्य संस्थानों, मेडिकल कॉलेजों के चिकित्सकों को इस इलाज की पद्धति के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है। इस सम्बंध में विशेष सचिव आयुष प्रमोद कुमार पाठक की ओर से निर्देश जारी किए गए हैं। मौजूदा समय में सरिता विहार दिल्ली स्थित ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद और गुजरात के जामनगर इंस्टीट्यूट ऑफ ट्रेनिंग एंड रिसर्च इन आयुर्वेद को पहले ही कोविड सेंटर बनाकर इलाज किया जा रहा है।

सिर्फ निर्देश का इंतजार :- इस वक्त देश में 66 हजार आयुष चिकित्सकों को इस खास इलाज की पद्धति के लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है। 33 हजार मास्टर ट्रेनर यह प्रशिक्षण दे रहे हैं। लखनऊ में कुर्सी रोड स्थित सीआरआईयूएम में तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। संस्थान के एक चिकित्सक ने बताया कि, हमे सिर्फ निर्देश का इंतजार है। जैसे ही निर्देश और दवाइयां आती हैं, संस्थान में मरीजों का इलाज शुरू कर दिया जाएगा। हम अपने स्तर से वे तैयार हैं।

COVID-19
Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned