script लोकसभा चुनाव से पहले बसपा नेताओं को मायावती की नसीहत, साम दाम दंड भेद से रहे दूर, जानें पूरी खबर | Mayawati advice BSP leaders before Lok Sabha elections 2024 up politic | Patrika News

लोकसभा चुनाव से पहले बसपा नेताओं को मायावती की नसीहत, साम दाम दंड भेद से रहे दूर, जानें पूरी खबर

locationलखनऊPublished: Jan 20, 2024 05:38:58 pm

Submitted by:

Aman Kumar Pandey

बसपा सुप्रीमो मायावती ने शनिवार 20 जनवरी को उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के सीनियर पदाधिकारियों तथा जिला अध्यक्षों की मौजूदगी में लखनऊ कार्यालय में अहम बैठक की। इस बैठक में बसपा मुखिया ने पार्टी के जनाधार को सर्वसमाज में बढ़ाने और पार्टी संगठन को मजबूती करने की बात कही है।

mayawati
Lucknow: बसपा सुप्रीमो मायावती ने शनिवार 20 जनवरी को उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के सीनियर पदाधिकारियों तथा जिला अध्यक्षों की मौजूदगी में लखनऊ कार्यालय में अहम बैठक की। इस बैठक में बसपा मुखिया ने पार्टी नेताओं को हर प्रकार की अफवाहों से बचने की नसीहत दी। मायावती ने बीते 15 जनवरी अपने जन्मदिन के अवसर पर लोकसभा चुनाव 2024 में अकेले ही चुनाव लड़ने का ऐलान किया था।
अफवाहों से बचे हथकंडों से रहें दूर- बसपा मुखिया

मायावती ने पार्टी नेताओं को अफवाहों से बचने की सलाह दी। पार्टी पदाधिकारियों को समझाते हुए उन्होंने कहा कि विरोधी दलों के साम, दाम, दंड, भेद आदि हथकंडे से दूर रहें। और पार्टी के दिशा-निर्देशों को पूरा करने के लिए संगठित होकर काम करें।
बसपा करती है सभी धर्मों का सम्मान

बसपा की ओर से जारी प्रेस रिलीज में मायावती ने कहा “ बसपा ही इकलौती ऐसी पार्टी है, जो संवैधानिक आदर्शों व मूल्यों के आधार पर चलने वाली और पूरी तरह से धर्मनिरपेक्ष पार्टी है। बसपा सभी धर्मों और उनके धार्मिक स्थलों का आदर-सम्मान के साथ-साथ न्याय का व्यवहार करते हुए सभी के जान-माल व इज्जत-आबरू की सुरक्षा की गारंटी सुनिश्चित करती है।
यह भी पढ़े: आकाश के आते ही बदलने लगी बसपा, चुनाव से पहले वोटरों को ऐसे साधेगी पार्टी

गठबंधन से टूटता है कार्यकर्ताओं का मनोबल

लखनऊ में हुई इस बैठक में बसपा मुखिया ने पार्टी के जनाधार को सर्वसमाज में बढ़ाने और पार्टी संगठन को मजबूती करने की बात कही है। उन्होंने आगे कहा कि गठबंधन करने से पार्टी के कर्मठ कार्यकर्ताओं का मनोबल टूटता है और मिशन कमजोर होता है।

ट्रेंडिंग वीडियो