व्हीलचेयर पर बैठे मुख्तार अंसारी ने कहा मैं निर्दोष, पत्नी ने राष्ट्रपति को लिखा पत्र, बोलीं- हो सकती है हत्या

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के आदेश के बाद मुख़्तार अंसारी को उत्‍तर प्रदेश लाया जाना था, लेकिन बुधवार को मोहाली कोर्ट (Mohali Court)) में मामले की सुनवाई 12 अप्रैल तक टल गई, जिस कारण उसे दोबारा रोपड़ जेल भेज दिया गया।

By: Abhishek Gupta

Published: 31 Mar 2021, 08:31 PM IST

लखनऊ. पंजाब की रोपड़ जेल में बंद बहुजन समाज पार्टी (Bahujan Samaj Party) के विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) बुधवार को व्हीलचेयर पर बैठे नजर आए। एंबुलेंस के जरिए मुख्तार को मोहाली कोर्ट (Mohali Court) लाया गया। सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के आदेश के बाद मुख़्तार अंसारी को उत्‍तर प्रदेश लाया जाना था, लेकिन बुधवार को मोहाली कोर्ट (Mohali Court)) में मामले की सुनवाई 12 अप्रैल तक टल गई, जिस कारण उसे दोबारा रोपड़ जेल भेज दिया गया। कोर्ट के बाहर मुख्तार ने कहा कि मुझे फंसाया जा रहा और पंजाब सरकार मुझे फंसा रही है। मैं निर्दोष हूं। उधर मुख्तार की पत्नी अफशां अंसारी (Afsha Ansari) ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) को पत्र लिखकर उनसे मुख्तार के यूपी लाए जाने के दौरान सुरक्षा व्यवस्था दुरुस्त करने के आदेश देने की मांग की है। अफशां का मानना है कि उनके पति मुख्तार की साजिशन पंजाब से यूपी आते वक्त हत्या करवाई जा सकती है।

ये भी पढ़ें- बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी पर पोटा लगाने वाले पूर्व डिप्टी एसपी शैलेंद्र सिंह को राहत, उन पर दर्ज सभी मुकदमे वापस

अफशां ने पत्र में लिखा कि उनके पति एक मामले में चश्मदीद गवाह हैं, जिसमें भाजपा के विधान परिषद सदस्य माफिया बृजेश सिंह और त्रिभुवन सिंह अभियुक्त हैं। आफशां का कहना है कि यह दोनों की सरकारी तंत्र की मिलीभगत से उनके पति को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। ऐसे में मुमकिन है कि बांदा की जेल में लाए जाते वक्त मुख्तार को फर्जी मुठभेड़ में मार दिया जाए।

ये भी पढ़ें- मुख्तार अंसारी को वापस यूपी लाने की तैयारी, बांदा जेल होगा नया ठिकाना, पंजाब से यूपी लाने का रोडमैप तैयार

लाइफ प्रोटेक्शन का आदेश देंः अफशां

अफशां ने पत्र में कहा कि परिवार भयभीत है। आवेदक को पुख्ता सूचना और धमकी मिल रही है, इस कारण ऐसा लगता है कि यदि मेरे पति के जीवन की सुरक्षा के लिए जिम्मेदारी तय किए बगैर उन्हें उत्तर प्रदेश भेजा गया, तो निश्चित रुप से कोई झूठी कहानी रच कर मेरे पति की हत्या करा दी जाएगी। इस कारण राष्ट्रपति से अपील है कि वह मेरे पति के ‘लाइफ प्रोटेक्शन' का आदेश दें। यूपी में जेल में रखने के बाद मुख़्तार की बैरक की सुरक्षा कड़ी की जाएगी।

BJP
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned